अगर किसी को शादी न हो रही हो और उम्र भी निकलती जा रही हो तो क्या किसी से भी शादी कर लेनी चाहिए?

जब सुभद्रा ( कृष्ण की बहन) विवाह योग्य हुई तो उसकी किशोरी से यौवनावस्था में प्रवेश करते ही उसकी मनमोहक सुन्दरता उनकी मां को ये एहसाह दिलाने लगी कि उनकी पुत्री विवाह योग्य हो गई है। अतः वो अपने पति के समक्ष उपस्थित हुई और कहा, ” महाराज मुझे आपसे सुभद्रा के विषय में जरूरी बात करनी है। हमारी सुभद्रा अब शादी योग्य हो गई है। अतः अब आपको उसके विवाह के लिए अच्छे वर खोजने के बारे में सोचना चाहिए”।

महाराज मुस्कुराते हुए सहज भाव से बोले, ” प्रिये, जब तक कन्या हेतु उचित वर ना मिले, तब तक कन्या विवाह योग्य नहीं होती। और रही वर खोजने की बात तो हम कौन होते है वर खोजने वाले। नियति तो पहले से तय है। जिससे उसकी जोड़ी नियति ने बना रखी है, वो सही समय आने पर मिल ही जाएगा, फिर स्वयं ही सारे कार्य लिपिबद्ध तरीके से होते चले जाएंगे। विधि के विधान को भला कौन बदल सकता है। अतः आप चिंतित ना हो। जब उसके विवाह की घड़ी आयेगी, हमे उचित वर भी मिल जाएगा।

आपके प्रश्न का उत्तर यही होगा कि अगर आपकी शादी नहीं हो रही, तो शायद अभी नियति में आपके भावी जीवनसाथी से मिलने का सही वक्त नहीं आया।

प्रैक्टिकली कहूं तो विवाह जीवनभर का सम्बन्ध है और सबसे अहम रिश्ता, तभी तो इस रिश्ते में बंधते ही जन्म से बंधे रिश्ते भी पराए हो जाते है। तो सही जीवनसाथी का मिलना जरूरी है ताकि आगे का सफ़र आनंदमय और खूबसूरत प्यार भरा हो। गलत इंसान से शादी आप दोनो को आगे चलकर पछतावा और दुख ही देगा।

मेरे बड़े पापा की बेटी डॉक्टर है, उनके घर का नाम प्रीति है। घर में सबसे बड़ी और सुंदर प्रीति दीदी ही है। मुझसे १० साल बड़ी है। लेकिन उनकी शादी ठीक ही नहीं हो पाती थी, जब सब ठीक होता तो कुंडली नहीं मिलती, जब कुंडली मिलती तो लड़के को लड़की में कोई नुख्श दिख जाता। तो बड़े पापा ने कहा, शायद अभी नियति में नहीं है शादी। जब उचित समय आएगा तभी होगी। इसलिए बहनों की शादी ना रोकी जाय।

मेरी दीदी,और दो बहनों के बाद मेरी भी शादी हो गई। फिर २०१२ मे १दिसंबर को प्रीति दीदी की शादी हुई। बहुत धूमधाम से। अमेरिका में लड़का डॉक्टर है। वही पढ़ने गया फिर वही सेटेल हो गया था, उसका सपना था,की जब एक एक्सपीरियंस हार्ट सर्जन बन जाऊंगा,तभी शादी करूंगा। और उनके इस सपने की वजह से कहीं ना कहीं उनकी शादी में विलम्ब हुआ। देर से हुई उनकी शादी लेकिन अच्छी हुई।

अंत में यही कहूंगी अपने शादी को लेकर दुखी मत होइएगा क्योंकि जिसे आपके लिए बनाया गया है वो आपको जरूर मिलेगा और तय समय के पहले नहीं। उत्साहित रहे, खुश रहे। और किसी भी ऐसे साथी का चुनाव ना करे जिसे आपका दिल स्वीकार ना करे।

बाकी चीजों का तो पता नहीं लेकिन वैवाहिक जोड़े तो ईश्वर ही बनाता है ऐसा मेरा व्यक्तिगत तौर पर मानना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.