अपनी हड्डियों को मजबूत बनाए रखने के लिए इन चीजों का करें परहेज

जो लोग बहुत सारे सॉफ्ट ड्रिंक, कोल्ड ड्रिंक, सोडा या फ्लेवर वाले जूस पीते हैं उनकी हड्डियां कमजोर होती हैं। शीतल पेय या कोल्ड ड्रिंक न केवल खाने में कैल्शियम को ख़त्म करते हैं, बल्कि आपके शरीर में पहले से मौजूद कैल्शियम को अवशोषित करते हैं। कैल्शियम हमारी हड्डियों को मजबूत बनाने में एक आवश्यक तत्व है।

कैल्शियम की कमी से न केवल हड्डियां कमजोर होती हैं बल्कि हड्डियों के विभिन्न रोगों का खतरा भी बढ़ जाता है। कुछ चीजें हैं, जिनका अगर अधिक मात्रा में सेवन किया जाए, तो हड्डियों में कैल्शियम की कमी हो सकती है। वास्तव में, हमें खाने से मिलने वाले कैल्शियम का केवल 20 से 30 प्रतिशत ही शरीर से मिलता है।

इसी तरह चॉकलेट के नियमित सेवन से हड्डियां कमजोर होती हैं। इससे ऑस्टियोपोरोसिस और हड्डी टूटने का खतरा बढ़ जाता है। चॉकलेट में मौजूद फ्लेवोनोल्स और कैल्शियम अस्थि खनिज घनत्व पर सकारात्मक प्रभाव डालते हैं लेकिन इसमें ऑक्सालेट भी होता है।

पशुओं के भोजन जैसे दूध, मांस, मछली, अंडे आदि का सेवन शरीर के लिए फायदेमंद माना जाता है लेकिन अगर हम इनका प्रतिदिन सेवन करते हैं तो यह हानिकारक है। एक अध्ययन के अनुसार, जो लोग हर दिन मांस, मछली और अंडे खाते हैं, उनमें सामान्य लोगों की तुलना में हड्डियों के रोगों के विकास की संभावना 3-4 गुना अधिक होती है।

कैफीन शरीर में पहुंचकर अच्छे से ज्यादा नुकसान करता है। बहुत अधिक कैफीन का शरीर की हड्डियों पर हानिकारक प्रभाव पड़ता है। बहुत अधिक कैफीन शरीर को कैल्शियम खोने का कारण बनता है। कम कैल्शियम का स्तर कमजोर हड्डियों और मांसपेशियों को जन्म दे सकता है। हड्डियों और दांतों को शक्ति देने के अलावा तन्त्रिकाओं और मांसपेशियों के सुचारू रूप से कार्य करने से लेकर रक्त जमने तक में कैल्शियम की बड़ी भूमिका होती है। कैल्शियम की कमी किसी भी व्यक्ति के लिए खतरनाक साबित हो सकती है, क्योंकि यह उसे काफी सारी गंभीर बीमारियों का शिकार बना सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.