अब तक का सबसे खराब टेस्ट क्रिकेट मैच कौन सा है? जानिए

हम आपको बताते एक ऐसे टेस्ट के बारे में जिसमें एक टीम दोनों पारियां मिलाकर भी 100 रन नहीं बना सकी।

हम बात कर रहे हैं 12 फरवरी 1932 को मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड पर ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका के बीच खेले गए टेस्ट मैच की।

इस मैच में साउथ अफ्रीका ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया। लेकिन उनका यह फैसला गलत साबित हुआ और टीम महज 36 रन पर ढेर हो गई।

साउथ अफ्रीका की और से केवल होरेस कैमरोन (11) ही दहाई का आंकड़ा पार कर सके। ऑस्ट्रेलिया की और से bert ironmonger ने 5 विकेट लिए वहीं लॉरेंस नेश ने 4 विकेट अपने नाम किए।

इसके बाद बल्लेबाजी करने आई ऑस्ट्रेलिया की टीम भी कुछ खास प्रदर्शन नहीं कर सकी और वह भी 153 रन पर ऑल आउट हो गई। ऑस्ट्रेलिया की और से जॉन फिंगलेटन ने 40 और एलेन किप्पेक्स ने 42 रन बनाए।

साउथ अफ्रीका की और से अलेक्जेंडर बेल, नेविल क्वीन और क्विंटन मैकमिलन ने 3–3 विकेट लिए।

दूसरी पारी में बैटिंग करने आई साउथ अफ्रीका का हाल पहली पारी की ही तरह रहा और टीम एक बार फिर 45 रन पर ढेर हो गई। इस बार साउथ अफ्रीका की और से सिडनी कर्नो 16 रन बनाकर केवल दहाई का आंकड़ा पार कर सके।

इस बार भी ऑस्ट्रेलिया के लिए सबसे ज्यादा विकेट bert ironmonger ने लिए। Ironmonger ने इस पारी में 6 विकेट लिए।

इस तरह साउथ अफ्रीका यह मैच इनिंग और 72 रन से हार गया। यह मैच केवल 110 ओवर ही चला मतलब एक दिन से कुछ जायदा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.