आईपीएल 2021 में टीम सीएसके की कमजोरी क्या है? जानिए

2019 के बाद से CSK में अब वो बात नहीं दिख रही है जिसके लिए इस टीम को जाना जाता है ।

3 बार की चैंपियन और 10 मर्तबा क्वालीफाई करने वाली एकलौती टीम आख़िर क्यू अपना पहले वाला रूप धारण नहीं कर पा रही है?

तो इसके निम्न कारण हो सकते है-

१. तेज गेंदबाजी- जी हां २०१९ में उपविजेता होने के बाद से ही सीएसके के पास तेज गेंदबाज़ी आक्रमण में ज्यादा विकल्प नहीं है। शार्दुल ठाकुर और दीपक चाहर की गेंदबाज़ी लगभग एकसमन ही है और ब्रावो बाद में गेंदबाज़ी करने आते हैं। अब तो हेजलवुड भी अपने देश चलें गए है। इसलिए तेज गेंदबाज़ी में सीएसके को कुछ करना ही होगा।

२. टॉप ऑर्डर- किसी भी मैच में दबदबा तभी बनता है जब टीम की शुरुआत धमाकेदार हो। एक समय था जब सीएसके पावरप्ले में ख़ूब रन बना दिया करती थी क्युकी उस टाइम टीम के पास जबरदस्त ओपनिंग पेयर थे। लेकिन मामला उलट है इसलिए टॉप ऑर्डर के फेल होने से मिडिल ऑर्डर पर दबाव बन जाता है और इसी दबाव में विकेट गिरने लगा जाती है।

३. फील्डिंग- सीएसके की अभी की सबसे बड़ी दिक्कत जो है उसकी फील्ड प्लेसमेंट। सीएसके के पास एमएस धोनी जैसा शातिर कप्तान मौजूद है लेकिन फ़िर भी सीएसके कि वर्तमान फिल्डिंग एवरेज ही है बहुत रन फ़िज़ूल में चलें जाते है और टीम अंत में न्यूनतम अंतराल से मैच गंवा देती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.