आप भी जानिए भुना हुआ बाजरा खाने के बेमिसाल फायदे

बाजरा मोटे अनाज में शामिल है जो सेहतमंद व्यक्ति के लिए किसी वरदान से कम नहीं है. सर्दी की शुरुआत होते ही सेहत को लेकर संजीदा लोगों की टेंशन शुरू हो जाती है और टेंशन क्यों न हो? ठंडा ठंडा मौसम पर खांसी-जुकाम होना और जोड़ों के दर्द का बढ़ना कोई नई बात नहीं है. ऐसे में चाहे कितने ही जतन क्यों न कर लें ठंडे मौसम से दूरी बनाए रखना लगभग नामुकिन है किन्तु कुछ हद तक ठंडी के प्रभाव को बाजरा की चपाती खाकर कम अवश्य कर सकते है. जी हाँ, बाजरा खाने से शरीर को भरपूर आयरन के साथ साथ गर्माहट भी मिलती है जो सर्दी के मौसम में हर व्यक्ति की अच्छी सेहत के लिए बेहद आवश्यक होती है.

अगर प्रयास किया जाए तो घर पर बाजरे की पोष्टिक खिचड़ी भी बना सकते है जो आसानी से हज़म हो जाती है तथा कई रोगों से बचाती है. यदि आप भी मीठे बाजरा को खाना पसंद करते हैं तो आपकी जानकारी के लिए बता दूँ की इन दिनों हफ्ते दो हफ्ते तक खेतों में कच्चा बाजरा आसानी से मिल जाता है जो की स्वाद और गुणों के मामले में सूखे बाजरे से कई गुना अधिक फायदेमंद है. यदि कुछ अगल हट के खाने का मन हो तो इन दिनों कच्चा बाजरा भुनकर थोड़ी-सी चीनी मिलाकर मज़े से खा सकते है.

बाजरा खाने से ठंड की वजह से होने वाली कई परेशानियाँ जैसे कमर दर्द, जोड़ों का दर्द, जुकाम कोसों दूरी बनाए रखता है. इतना नहीं यदि कोई तला हुआ खाना खा खाकर बोर हो चूका है और कुछ नया ट्राई करने के मूड में है तो बाजरा के बने पकवान अच्छी सेहत और स्वाद के लिए एक बेहतरीन विकल्प है. नेचुरल तरीके से बाजरा खाने हेतु बोई गई बाजरे की फसल सेहत और स्वाद दोनों के लिए बेस्ट होती है फिर भी इसकी गर्म-तासीर के कारण किसी विशेष परिस्थिति से गुजरते समय डॉक्टर की अनुमति से ही बाजरा खाना चाहिए. ख़ासकर गर्भावस्था में इस बात का पूरा ख्याल रखना चाहिए की बाजरा खाने से शरीर में गर्मी बढ़ जाती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.