इन कंपनियों से लोन भूल कर भी न ले वर्ना बाद में पछताना पड़ेगा

आज मैं आपको बताऊंगा की आपको किस कंपनी से कभी लोन नही लेना चाहिए अगर आपके लोन लेने का उद्देश्य अपना सिबिल स्कोर अच्छा करना है तो इस कंपनी से लोन तभी ये जब पैसों की सबसे ज्यादा जरूरत वर्ना बिल्कुल ना ले। मैं ऐसा क्यों कह रहा हूं ये भी बताऊंगा आगे और कारण जानने के आप भी कहोगे की भाई अच्छा किया कि बता दिया।

लोन लेने के कारण

लोन हम तभी लेते जब हम पैसों की जरूरत होती हैं। लेकिन आपने अकसर ये देखा होगा कि जब भी हम बैंक या अन्य किसी वित्तीय संस्था के पास अपना आवेदन लेकर जाते है तो वो ज्यादातर वित्तीय संस्थाएं आपके आवेदन को अस्वीकार कर देती हैं। ऐसा आपके साथ ही नही होता बल्कि से 60 से 70 प्रतिशत आवेदन को बैंक अस्वीकार कर देती और इसका कारण आपके खराब या शून्य सिबिल स्कोर को बताती है। क्या आपको पता हैं कि सिबिल स्कोर क्या होता है और बैंको और वित्तीय संस्थायों के लिए ये सिबिल स्कोर महत्व क्यों रखता हैं। आइये जानते हैं। सिबिल स्कोर आपका 3 अंको की संख्या होती है जो 300-900 तक रहती है। और इसी स्कोर के आधार पर वित्तीय संस्थाएं ये निर्णय लेती है कि आप लिए गए ऋण का भुगतान समय पे कर पाएंगे या नही। अगर आपका सिबिल स्कोर अच्छा है तो ही बैंक या अन्य वित्तीय संस्थाए आपके आवेदन को स्वीकार करती है अन्यथा तब तक नही करेगी जब आपका सिबिल स्कोर अच्छा नही हो जाता। अगर आपका सिबिल स्कोर शून्य होगा तब भी आपका आवेदन वित्तीय संस्थाए आपके आवेदन को अस्वीकार कर देगी। तो फिर कैसे बनाये सिबिल स्कोर क्योंकि हर किसी को शून्य से ही शुरू करना होता हैं। तो इसका एक ही समाधान हैं। क्या? आइये जानते हैं। देखो मार्किट मैं ऐसी कई ऐसी भी वित्तीय संस्थाए है जो आपको लोन सिर्फ आपके आधार कार्ड और पैन कार्ड के आधार पर देती हैं ऐसी कंपनियों को आपके पुराने रिकॉर्ड से कोई मतलब नही होता। तो आपको ऐसी ही कंपनी से लोन लेते रहना हैं और उसका भुगतान भी सही समय पर करना हैं। समय पर किया गया भुगतान ही आपके सिबिल स्कोर को मजबूत बनाता हैं ताकि भविष्य में आपको आपातकाल के समय आराम से लोन मिल जाये। तो अब लोन लेने के दो कारण हो गए।

अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए,

अच्छा सिबिल स्कोर बनाने के लिए।
स्कोर बनाने के लिए किन कंपनी से लोन न ले

अगर आपका लोन लेने का उद्देश्य अपना सिबिल स्कोर बनाना या अच्छा करना है तो ऐसी कंपनी से लोन बिल्कुल न ले जो आपको लो आराम से दे देती है मतलब बिना सनक्शन लेटर दिए या ऐसी कंपनियों से जो सिबिल डिपार्टमेंट को ये बताती ही नही की अपने ऋण का समय पर भुगतान कर दिया। जब आपके भुगतान की जानकारी सिबिल डिपार्टमेंट को नही मिलेगी तब तक आपके सिबिल स्कोर में वृद्धि नही होगी। अगर आपके उद्देश्य की पूर्ति हुई ही नही तो लोन लेना बेकार गया क्योंकि आपको लिए गए ऋण पर ब्याज और अन्य शुल्क भी देने पड़ते हैं। ऐसी एक कंपनी का नाम में बता देता हूं जो आपको ऋण तो देती हैं वो भी आसानी से पर भुगतान मिलने के बाद भी सिबिल डिपार्टमेंट को रिपोर्ट नही करती जिसके कारण आपका क्रेडिट स्कोर यानी सिबिल स्कोर नही बढ़ता चाहे आप कितनी भी बार लोन लेकर उस लोन को चुका दे। उस कंपनी का नाम है केशबीन।

Leave a Reply

Your email address will not be published.