एक कार को डाउन बैटरी के साथ या बिना बैटरी के कैसे स्टार्ट किया जा सकता है? जानिए

बिना बैटरी के तो कह नहीं सकता किन्तु कमजोर बैटरी से भी गाड़ी स्टार्ट करने के तीन आसान तरीके है.

हमने तीनों समय समय पर आजमाये हैं. कभी सफलता मिली, कभी नहीं भी मिली.

पहले तो आम तौर पर प्रचलित उपाय ही है – धक्का लगाइये, और प्रायः गाड़ी स्टार्ट हो ही जाती है.

एक चाय बनाने वाली बड़ी केतली में पानी गरम कीजिये – खौलने दीजिये. इस गरम पानी को धीरे धीरे बैटरी पर डालिए. तत्काल गरमी मिलने पर कभी कभी इतना चार्ज जमा हो जाता है कि गाड़ी स्टार्ट हो जाती है.

तीसरा है जम्प केबल. प्रायः मेकेनिक इसका उपयोग करते हैं. अपनी गाड़ी के बगल में दूसरी गाड़ी खडी कर दीजिये. अब एक केबल से अच्छी बैटरी के प्लस पॉइंट से खराब बैटरी के प्लस पॉइंट को जोडिये. गाड़ी स्टार्ट हो जाती है.

इस समय ध्यान से अच्छी बैटरी वाली गाड़ी की चाबी इग्निसन से हटा दीजिये. वरना बैटरी पर अधिक बोझ पड़ेगा, और अच्छी बैटरी भी खराब हो सकती है.

बिना बैटरी के भी कुछ हो सकता है तो अवश्य यहाँ लिखिये.

वैसे एक और तरीका भी है जैसा कि टीवी पर एक तथाकथित इनर्जी ड्रिंक के विज्ञापन में दिखाते हैं.

एडिट : नीचे दो भले लोगों ने जम्प केबल वाले तरीके पर टिप्पणी की है. एक साहब तो इतने मुंहफट और बेअदब थे कि मुझे उनकी टिप्पणी ही हटानी पड़ी.

उन लोगों की राय में जम्प केबल वाला आईडिया सही तो है किन्तु ++ और – – कनेक्सन पर उन्होंने कुछ मतभेद जाहिर किया है. हो सकता है कि उनकी बात सही हो.

यह भी राय आई है कि ऐसा करते समय अच्छी बैटरी वाली गाड़ी को स्टार्ट रखना चाहिये, जिससे कि अच्छी बैटरी चार्ज होती रहे – कमजोर न पड़ जाये. बात में दम है किन्तु ऐसा किया नहीं जाता क्योंकि यदि बैटरी अच्छी है तो कमजोर बैटरी वाली गाड़ी को कुछ ही पलों में स्टार्ट कर देती है. इसमें ज्यादा समय नहीं लगता.

लेकिन इस बारे में हम ज्यादा कुछ नहीं कर सकते. यह काम तो मेकेनिक लोग खुद करते हैं. कोई भी ड्राईवर जम्प केबल लेकर नहीं घूमता. अतः उस स्थिति में हम मेकेनिक की सहायता पर ही निर्भर होते हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.