ऐसे कौन- कौन से फिल्मी एक्टर हैं जो फिल्मी दुनिया में आने से पहले डॉक्टर थे?

1) डॉ. श्रीराम लागू– शुरुआत यादों की बारात से करते हैं. मशहूर थिएटर और फिल्म एक्टर, जिन्होंने ओरिजिनल ‘हेरा फेरी’ (1976) से लेकर ‘घरौंदा’, ‘मुकद्दर का सिकंदर’, ‘लावारिस’ और ‘पुकार’ समेत 250 से ज़्यादा फिल्मों में काम किया. श्रीराम लागू डॉक्टर भी थे. महाराष्ट्र के सातारा के रहने वाले लागू ने पुणे से मेडिकल की पढ़ाई की. फिर डॉक्टरी की प्रैक्टिस शुरू कर दी. तीन साल तक तंजानिया में बतौर ईएनटी (कान नाक गला) विशेषज्ञ के तौर पर काम किया. 42 की उम्र में वो सबकुछ छोड़कर अपने बचपन का ख्वाब पूरा करने, एक्टिंग करने इंडिया लौट आए.

2) अदिति गोवित्रिकर– ‘दुल्हन की विदाई का वक्त बदलना है’ वाली फिल्म ’16 दिसंबर’ याद है? उसमें इन्होंने सोनल का रोल किया था. इसके अलावा ‘पहेली’ और ‘दे दना दन’ जैसी फिल्मों में काम कर चुकी हैं. अदिति एक्टर बनने से पहले मॉडल थीं. मिसेज़ इंडिया और मिसेज़ वर्ल्ड जैसे बड़े टाइटल्स जीत चुकी थीं. अगर उनकी पढ़ाई-लिखाई की बात करें, तो वो इंडिया की पहली सुपरमॉडल थीं, जिसके पास मेडिकल और साइकोलॉजी की डिग्री थी. अदिति ने मुंबई के ग्रांट कॉलेज से मेडिकल की पढ़ाई की थी लेकिन उन्होंने डॉक्टरी को अपने पेशे के तौर पर नहीं चुना.

3) पलाश सेन– ‘यूफोरिया’ बैंड की नींव रखने वाले एक्टर और सिंगर. बताया जाता है कि पलाश राजवैद्यों के परिवार से आते हैं. वो अपनी फैमिली के 17वें जनरेशन के फिज़िशियन हैं. उन्होंने अपने बैंड के साथ मिलकर ‘धूम’, ‘गली’, ‘महफूज़’ समेत 10 से ज़्यादा म्यूज़िक एल्बम बनाए. 2002 में मेघना गुलज़ार की फिल्म ‘फिलहाल’ से बॉलीवुड में एक्टिंग डेब्यू किया लेकिन ‘मुंबई कटिंग’ और कुछ इक्का-दुक्का फिल्मों में काम करने के बाद एक्टिंग से अलग हो गए. पलाश ने दिल्ली यूनिवर्सिटी के कॉलेज ऑफ मेडिकल साइंसेज़ (अब फैकल्टी ऑफ मेडिकल साइंसेज़) से एमबीबीएस की डिग्री ली थी.

4) साई पल्लवी– साउथ इंडियन फिल्मों की तगड़ी एक्ट्रेस. ‘प्रेमम’ जैसी कल्ट फिल्म में इन्होंने निविन पॉली की टीचर मलर का रोल किया था. इसके अलावा ‘फिदा’, ‘एनजीके’ और ‘मारी 2’ जैसी बॉक्स ऑफिस ब्लॉकबस्टर फिल्मों में काम कर चुकी हैं. कोयंबटूर से आने वाली साई ने जॉर्जिया के टीएसएम (Tbilisi State Medical) यूनिवर्सिटी से मेडिकल की डिग्री ली थी. हालांकि कुछ टेक्निकल दिक्कतों की वजह से पल्लवी अभी तक इंडिया में बतौर मेडिकल प्रैक्टिशनर खुद को रजिस्टर नहीं करवा पाईं हैं.

5) विनीत कुमार– ‘गैंग्स ऑफ वासेपुर’ के दानिश खान. विनीत ने एक टैलेंट हंट जीतकर संजय दत्त की फिल्म ‘पिता’ (2002) से अपना एक्टिंग डेब्यू किया था. उसके बाद से वो ‘बॉम्बे टॉकीज़’, ‘अग्ली’, ‘मुक्काबाज़’, ‘दासदेव’ और ‘सांड की आंख’ जैसी फिल्मों में काम कर चुके हैं. बीएचयू से ग्रैजुएशन करने के बाद विनीत ने सीपीएमटी (कंबाइन्ड मेडिकल प्री-टेस्ट) पास किया और अपने मेडिकल कॉलेज के टॉपर बने. उनके पास आयुर्वेद में एमडी (डॉक्टर ऑफ मेडिसिन) की डिग्री है. साथ ही बाकायदा डॉक्टरी की प्रैक्टिस करने का लाइसेंस भी.

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *