कंप्यूटर और इंटरनेट युग पहले कुछ लोकप्रिय गैजेट क्या थे? जानिए

रेडियो – एक छोटा सा किस्सा सुनाता हूं। हमारे कार्यालय में एक रिटायरमेंट के करीब सीनीयर हैं। एक दिन वे रेडियो के प्रति दीवानगी बता रहे थे। 1960 में उनके पिताजी मुंबई किसी काम से गए थे। मुंबई से उन्होंने एक रेडियो लाया था।

मुंबई से रेडियो आने की खबर सुनकर पूरी बस्ती में शोर मच गया। आसपास की भारी भीड़ रेडियो को सुनने के लिए टूट पड़ती थी। सभी लोग रेडियो से कान चिपका कर बैठे रहते थे।

आज से 40/50 साल पहले लोग जब सुबह नित्य कर्म के लिए खेत या जंगल की तरफ जाते तब रेडियो साथ लेकर जाते थे। रेडियो को खेत में रख देते और अगल बगल वाले भी रेडियो का आनंद लेते हुए नित्य कर्म से निवृत्त होते।

उस जमाने में लोगों को शादी में रेडियो और साइकिल मिलता था। जिनको यह सामान मिल जाता वे गांव में सम्मान की दृष्टि से देखे जाते थे।

कैसेट्स – आप विश्वास न करें परंतु 1962 में कैसेट्स युवाओं की पहली पसंद थी , उस समय के युवा अलग ही मूड के थे। कैसेट दो तरह के होते थे, एक जिनमें पहले से संगीत रिकॉर्ड होता था और दुसरे पूरी तरह से खाली होता था ताकि रिकॉर्डिंग की जा सके, और इन कैसेटों को उपयोगकर्ता द्वारा उलट पुलट कर दोनों तरफ से इस्तेमाल किया जाता था।

वीसीआर- वीसीआर का नाम सुनते ही हमें अपने पुुरानेे दिन याद आ जाते हैंं जब वीसीआर पर फिल्‍म देखने के लिए किसी खास‍ दिन का इंतजार किया जाता था और उस खास दिन केे आने से पहले चंदा इकट्ठा किया जाता था।

अमेरिकी की कंपनी एमपैक्स (Ampex) ने पहला सन् 1956 में पहला वीसीआर बनाया उस समय इस वीसीआर की कीमत 50 हजार डॉलर यानी लगभग 33 लाख रुपये थी।

सीडी डीवीडी- भारी भरकम वीसीआर कैसेट्स की जगह बाद में सीडी डीवीडी ने ले ली। 1995 के बाद जोशिले युवा अपने बेडरूम में सीडी डीवीडी प्लेयर जरुर रखते थे। उनके पास फिल्मों का पूरा कलेक्शन रहता था।

इस तरह हम समझ सकते हैं कि युवाओं के बीच गैजेट्स की दीवानगी हमेशा से रही है। लेकिन परिवर्तन यही है कि पहले लोग एक साथ इनका आनंद उठाते थे अब एकांकी रुप से ।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *