कहाँ पर पहाड़ बताता है कि गर्भ में लड़का है या लड़की?

यहाँ पर पहाड बताता है कि गर्भ में लड़का है या लडकी ! यह दुनिया बहुत सी अजीब घटनाओं से भरी हुई है । कुछ घटनाओं पर तो यकीन करना भी काफी मुश्किल है । आज हम आपको एक ऐसी घटना के बारे में बताने जा रहे हैं , जो आपको अवश्य ही हैरान कर देगी ।

इस घटना को जानने के लिए किसी अन्य देश के जिक्र करने की आवश्यकता नहीं है क्योंकि यह घटना भारत की ही है । हमारे देश में इस तरह के अंधविश्वासों की कोई कमी ही नहीं है फिर हम दूसरे देशों में क्यों जाएं ?

दरअसल यह परंपरा झारखंड में प्रचलित है । एक विशेष समुदाय के लोगों का यह मानना है की उनके पास स्थित पहाड़ उनके जीवन के भविष्य को बता सकता है ।

लोगों में यह परंपरा बहुत ही प्राचीन समय से चली आ रही है । पहाड़ पर एक चांद की आकृति बनी हुई है । लोगों का मानना है कि यही चांद की आकृति आपके भविष्य का निर्धारण कर सकती हैं ।

लोगों के इस तथ्य में गहरी आस्था भी है । यहां पर यदि कोई महिला गर्भवती हो जाती है तो यहां के लोग उसके गर्भ का निर्धारण पहले ही कर देते हैं । लोगों का मानना है कि पहाड़ पर जो चांद की आकृति बनी हुई है वह किसी भी गर्भवती के गर्भ का निर्धारण कर सकती है ।

गर्भ का निर्धारण करने के लिए किसी भी गर्भवती औरत को उसके समान आकृति पर पत्थर फेंकना होता है । वहां के लोग इसी तरीके से गर्भवती महिला के भ्रूण का परीक्षण करते हैं ।

वैसे तो किसी भी बच्चे के जन्म से पहले भ्रूण का परीक्षण करना गैर कानूनी है । परंतु यहां के लोग शायद इस बात को नहीं समझ रहे हैं । इस तरह के समुदाय में अशिक्षा के प्रसार के कारण लड़कों को सर्वोपरि माना जाता है । इस तथ्य को देखते हुए ये लोग लडकी होने पर कुछ गलत भी कर सकते हैं । भ्रूण परीक्षण करना एक गैर कानूनी कार्य है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.