केले का फल टेढ़ा क्यों होता हैं?

केला एनर्जी से भरपूर होता है। खासतौर से बच्चों को इसे विशेष रूप से खाने की सलाह दी जाती है। आपने भी कभी इसके आकार पर ध्यान दिया होगा। लेकिन शायद कभी सोचा की इसका आकार ऐसा ही क्यों होता है। तो इसके टेढ़ा होने का क्या कारण है चलिए आज में आपको केले से जुड़ी इस जानकारी के बारे मे बताता हूँ।

केला एक अलग ही प्रक्रिया से होकर गुजरता है। इस प्रक्रिया को नेगेटिव जियोटोपाइज्म कहा जाता है। इसे आसान शब्दो मे पेड़ों के सूरज की तरफ बढ़ने की प्रवृति कहते है।

शुरुआत में तो यह फल जमीन की तरफ बढ़ता है लेकिन बाद में नेगेटिव जियोटोपाइज्म की प्रवति के कारण जमीन की बजाय सूरज की तरफ बढ़ने की कोशिश करता है इसमे गुरुत्वाकर्षण इसके विपरीत काम करता है जिसके कारण केला टेढ़ा हो जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.