कैसे सोने के तरीके से किसी के व्यक्तित्व का पता लगा सकते हैं? जानिए

हमने लगभग दो तीन सालों पहले इसके बारे में पढ़ा था। याद तो नहीं है सब कुछ फिर भी कुछ चीजे है जो हम उसके अनुसार की खुद पे लागू करने का प्रयास करते है। ये शायद समुद्र शास्त्र से संबंधित होता है। हम मनुष्य दैनिक जीवन में अलग अलग तरीकों से सोते है जिसका प्रभाव हमारे जीवन पर पड़ता है कुछ बिंदु पर प्रकाश डालना चाहेंगे।

कुछ लोग ऐसे होते है, जो पेट के बल लेटकर सोना पसन्द करते है। ऐसे व्यक्ति किसी आकारण भय से ग्रस्त होते है। इन्हें किसी भी प्रकार का खतरा उठाना अच्छा नहीं लगता है। जीवन में इन्हें कई बार धोखा मिलने के आसार रहते है। जिस कारण ये लोग हर काम बहुत सोंच समझकर करते है। आर्थिक लेन-देन में इन्हें सावधानी बरतनी चाहिए।

जो लोग सोने से पहले पैर हिलाते है, उन्हें सदैव कोई चिन्ता बनी रहती है। वें दूसरों के बारें में सोचकर बेवजह परेशान होते रहते है। छोटी-छोटी बातों को लेकर पूरी-पूरी रात्रि ये लोग सोंचते रहते है। ऐसे लोगों के जीवन में उतार-चढ़ाव की स्थितियॉ बनी रहती है।

ऐसे लोग जो सोते वक्त पैरों को कसकर जकड़ लेते है और साथ में पूरे शरीर को ढककर सोने की आदत होती है। ऐसे लोगोे का जीवन संघर्षपूर्ण बना रहता है। ये लोग हर परिस्थितियों में अपने-आपको ढालने की कला में माहिर होते है। अपनी व्यवहार कुशलता से दूसरों का मन जीतने में माहिर होते है। लेकिन ये t थोड़ा झक्की भी होते है तथा इनके मन में क्या चल रहा है, ये जान पाना असम्भव है। सोचते कुछ और है और करते कुछ और है।

जो लोग एकदम सीधे लेटकर सोते है, वे अपने जीवन में बहुत उॅचाइयों पर पहुॅचते है। इन लोगों में गजब का आत्म-विश्वास होता है। ऐसे लोग अपनी मेहनत के दम पर दुनिया में छा जाना चाहते है। परिवार व समाज का हित करने के लिए कुछ ऐसे कार्य भी करते जिनसे इनकी प्रतिष्ठा में चार-चॉद लगते है। ऐसे लोगों का स्वास्थ्य भी अच्छा रहता है।

जो लोग रात भर इधर से उधर करवट बदला करते है। वे बहुत ही भावुक होते है। ये लोग दूसरों की समस्या सुनकर स्वयं ही परेशान हो जाते है। ऐसे लोगों को नींद न आने की समस्या भी बनी रहती है। इनका हाजमा भी दुरस्त नहीं रहता है। इन्हें सफलता भी देर से ही मिलती है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *