कोरोना इफेक्ट: Tata का जमशेदपुर प्लांट 22 मई तक बंद

टाटा मोटर्स ( Tata Motors ) ने घोषणा की है कि उसका जमशेदपुर प्लांट मेंटेनेंस के लिए 5 दिनों के लिए बंद रहेगा। भारत की दिग्गज वाहन निर्माता ने देशभर में कोरोना के हालात को देखते हुए यह फैसला लिया है। कंपनी ने इस मामले में एक बयान जारी कर कहा, “टाटा मोटर्स का जमशेदपुर प्लांट 18 से 22 मई तक बंद रहेगा। यह हमारी वार्षिक रखरखाव गतिविधियों का संचालन करने के लिए है। कंपनी ने साथ ही कहा है कि यह कदम मौजूदा महामारी की श्रृंखला को तोड़ने के लिए देश के कई राज्यों में चल रहे लॉकडाउन का भी समर्थन करता है।”

टाटा मोटर्स ने अपने जमशेदपुर संयंत्र की शुरुआत साल 1945 में की थी। इस प्लांट ने 2020 में 75 साल पूरे किए। इसमें हाइटेक मैन्युफैक्चरिंग और असेंबली लाइनें हैं, जहां हर पांच मिनट में एक मीडियम या हेवी ट्रक को बनाया जाता है। जमशेदपुर प्लांट एक विश्व स्तरीय इंजीनियरिंग और रिसर्च केंद्र का केंद्र है, जो 3डी विजुअलाइजेशन के माध्यम से कॉमप्लेक्स व्हीकल डिजाइनिंग और इंटेलिजेंट इलेक्ट्रॉनिक वाहन नियंत्रण प्रणाली और हाइब्रिड प्रौद्योगिकियों के एकीकरण में सक्षम है।

अप्रैल में कैसी रही वाहनों की बिक्री?

टाटा मोटर्स (Tata Motors) ने अप्रैल 2021 में कुल 9,530 यूनिट्स की भारतीय बाजार में बिक्री की। जबकि, मार्च 2021 में कंपनी ने 66,609 यूनिट्स की भारतीय बाजार में बिक्री की थी। यानी, इस दौरान मार्च 2021 की तुलना में कंपनी की बिक्री में 41 फीसदी की महीना दर महीना गिरावट दर्ज की गई। बता दें कि पिछले साल अप्रैल महीने में टाटा के एक भी वाहन की बिक्री नहीं हुई थी। दरअसल, कोरोना महामारी के खतरे को देखते हुए पूरे देशभर में भारत सरकार ने लॉकडाउन लगा दिया था। इसकी वजह से टाटा के वाहनों का प्रोडक्शन और बिक्री दोनों ठप हो गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.