कोरोना का नया रूप कितना ख़तरनाक है? जानिए

वायरस का रूप बदलना या म्यूटेशन उसकी प्रवृत्ति होती है। जब भी वायरस अपने किसी एक होस्ट के अंदर इंट्री करता है तो तेजी से अपना रूप बदलता है। अगर वह रूप नहीं बदले तो उसके सेल्स मर जाते हैं, लेकिन कभी-कभी जब होस्ट के सेल्स कमजोर होते हैं तो वायरस पहले की अपेक्षा मजबूत हो जाता है और ज्यादा संक्रामक हो जाता है।

रिसर्च के बाद ही पता चल पाएगा कि वायरस का नया वेरिएंट वायरस के दूसरे रूप से कितना ज्यादा संक्रामक और खतरनाक है। लेकिन इतना तय है कि रूप बदलने के पीछे वायरस का उद्देश्य ज्यादा आसानी से और ज्यादा लोगों तक संक्रमण फैलाना रहता है।

ब्रिटेन (Britain) में Coronavirus का नया स्ट्रेन (Variant) बेकाबू हो गया है। ब्रिटेन में कोरोना वायरस (Corona Virus) के नए स्ट्रेन (COVID-19 New Strain in UK) के सामने आने से दुनियाभर में एक बार फिर हड़कंप मच गया गया है।

राजधानी लंदन की इस बेहद खराब हालत को देखते हुए भारत समेत दुनिया के कई देशों ने ब्रिटेन से उड़ानों पर बैन लगा द‍िया है। कोरोना वायरस संक्रमण में म्यूटेशन की सूचना ने डॉक्टरों और लोगों की चिंता बढ़ा दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.