Why not a single patient of Corona virus in North Korea will be surprised to know

कोरोना डर के बीच आई और भी बुरी खबर, सारी दुनिया दुखी है

आज सारी दुनिया कोरोना वायरस की चपेट में है और दुनिया की सभी वैज्ञानिक टीम कोरोना वायरस की दवा बनाने में लगे हुए हैं लेकिन आज तक किए गए सारे दावे झूठे निकले, तो चलिए शुरू करते हैं।

  1. सिप्ला 6 महीने में कोरोना वायरस की दवा तैयार कर सकती ऐसा हुआ तो भारत की पहली कंपनी होगी सिप्ला।
  2. फ्रांस में वैक्सीन बनाने और उसे 6 दिन में संक्रमित इंसान के ठीक होने का दावा किया जा रहा है मगर टेस्ट अभी बाकी है।
  3. चीन में एकेडमी ऑफ मेडिकल साइंसेज ने क्रोना की वैक्सीन बना ली है हालांकि वॉलिंटियर्स की तलाश है।
  4. अमेरिका ने जर्मन फॉर्म क्योरवैक को अमेरिका में दवा बनाने का न्योता दिया।
  5. जर्मनी की बायोटेक कंपनी कोरोना वायरस की वैक्सीन बनाने के बहुत करीब है।

अगर भारत 6 महीने में दबाव बना भी लेता है तो आप अंदाजा लगा सकते हैं कितने लोग इस वायरस की चपेट में आ गए होंगे ऐसे ही दावे फ्रांस, चीन, अमेरिका और जर्मनी लेकिन किसी के पास अभी किसी भी प्रकार की कोई ठोस दवा नहीं बनी हुई है तो आप अंदाजा लगा सकते हैं कोरोनावायरस कितने दिनों तक और चलने वाला है। 

1- वायरस से बचने के उपाय-

  • किसी भी बाहर से आए हुए व्यक्ति से ना मिले।
  • अपने घरों में रहे बाहर घूमने ना जाए।
  • अगर आप बाहर जाते हैं तो घर में अंदर आने से पहले अपने हाथ साबुन से और सैनिटाइजर का उपयोग करें।
  • बाहर जाते समय अपने मुंह पर मास्क लगाकर रखें।
  • अगर आपको सर्दी, जुखाम, खांसी, सांस लेने में प्रॉब्लम आंखों का लाल होना आदि लक्षण दिखाई देते हैं तुरंत नजदीकी अस्पताल पर संपर्क करें।
  • इस वायरस से बचने के लिए सुरक्षा ही सबसे बड़ा हथियार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.