कोरोना संकट में परिवार का पेट भरने के लिए कबड्डी की राष्ट्रीय खिलाड़ी ने खोली लॉन्ड्री

कोरोना संकट में सबसे बड़ी मार रोजी-रोटी को लेकर हुई हैं। देश के कई खिलाड़ी इन दिनों रोजगार को लेकर परेशान है। वाराणसी के बच्छाव की रहने वाली सोनाली कनौजिया कबड्डी की राष्ट्रीय खिलाड़ी भी इन दिनों पिता के कामकाज में साथ दे रही हैं। परिवार की गुजर बसर के लिए सोनाली लॉन्ड्रिंग का काम रही है। सोनाली 2020 में छत्तीसगढ़ में हुई 565वीं राष्ट्रीय प्रतियोगिता में कांस्य पदक जीत
चुकी हैं और खेल को ही अपना जीवन मानती हैं।

लेकिन परिवार के इस मुश्किल घंडी में सोनाली ने अपने परिवार का पालन पोषण करने के लिए अपने सपनों को पिछे रखते हुए उनकी मदद करने की सोची और लॉन्ड्रिंग का काम शुरू कर दिया। सोनाली वाराणसी के बच्छाव स्थित महामना मालवीय इंटर कॉलेज में कक्षा 9 की छात्रा हैं।

राष्ट्रीय खेल में देश का झंडा लहरा चुकी सोनाली के घर की दीवार पर टंगे मेडल और सर्टिफिकेट सोनाली कन्नौजिया की कामयाबी की कहानी बयां करते हैं। सोनम के पिता श्यामू कन्नौजिया कहते हैं कि सोनम कबड्डी की नेशनल प्लेयर हैं, लेकिन लॉकडाउन की बंदिशों ने उन्हें दाने-दाने के लिए मोहताज कर दिया है।

दोस्तों यह पोस्ट आपको कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं और अगर यह पोस्ट आपको पसंद आई हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर लाइक करना ना भूलें और अगर आप हमारे चैनल पर नए हैं तो आप हमारे चैनल को फॉलो कर सकते हैं ताकि ऐसी खबरें आप रोजाना पा सके धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *