क्या आप जानते हैं, बाइक बंद करने पर टिक टिक की आवाज क्यों आती है

क्या आपने कभी गौर किया है जब आप कभी बाइक से सवार होकर के घर पर आते हैं या घर से बाहर जाते हैं। और बाइक से अपने लक्ष्य पर पहुंचने के बाद जब बाइक को स्टैंड पर खड़ा करते हो तो उसमें से टिक टिक की आवाज आती है और आप बाइक को चारों तरफ से घूम फिर के देखते हो परंतु आपको यह पता नहीं चलता है कि आवाज कहां से आ रही है। तो कभी आपने सोचा है कि आवाज कहां से आती है? तो चलिए आज हम आपको इसी के बारे में बताने जा रहे हैं।

दोस्तों आप कहीं से घूम कर आते हैं फिर थोड़ी देर के बाद मोटरसाइकिल को स्टैंड पर लगा देते हैं और उसके इंजन से टिक टिक की आवाज आने लगती है। तो दोस्तों होता यह है कि वाहन में से निकलने वाले धूऐं में बहुत से हानिकारक तत्व पाए जाते हैं। इसमें सबसे पहला जो हानिकारक तत्व है वह ‘कार्बन मोनोऑक्साइड’ है। दोस्तों यह रसायन बहुत ही हानिकारक होता है और यह जहरीली गैस के रूप में जाना जाता है। इसके अलावा इसमें ‘हाइड्रोकार्बन’ और ‘नाइट्रोजन ऑक्साइड’ भी होता है। जिसकी वजह से अम्लीय वर्षा के बादल बनते हैं।

इन गैसों से बचने के लिए बाइक के साइलेंसर में ‘कैटालिटिक कन्वर्टर’ का प्रयोग किया जाता है। इस कनवर्टर का काम यह होता है कि ये गैसों को दूसरे रूप में कन्वर्ट कर देता है। जैसे ‘कार्बन मोनोऑक्साइड’ को ‘कार्बन डाइऑक्साइड’ और ‘जल’ में कन्वर्ट कर देता है और ‘नाइट्रोजन ऑक्साइड’ को ‘नाइट्रोजन’ और ‘ऑक्सीजन’ में बदल देता है। तो जब हम मोटरसाइकिल को थोड़ी देर तक चलाते हैं तो ऐसे में उसका साइलेंसर गर्म हो जाता है।

दोस्तों जब साइलेंसर गर्म होता है तो उसके अंदर लगा हुआ ‘कैटालिटिक कन्वर्टर’ का पाइप गरम होकर फैलने लगता है। और जब इंजन बंद होता है तब यह पाइप ठंडा होने लगता है और ठंडा होने की वजह से यह सिकुड़ने लगता है। और इसी प्रक्रिया में टिक टिक की आवाज आने लगती है। जिसका यह मतलब होता है कि आपके बाइक का इंजन एकदम सही तरीके से काम कर रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.