क्या आप श्रीलंका के खान-पान के बारे में जानकारी दे सकते हैं?

भारत के दक्षिण में बसा पड़ोसी देश श्रीलंका पूरी दुनिया को अपनी ओर आकर्षित करता है।श्रीलांका की आबादी दो करोड़ की है। यहां की आबादी की 70 फीसदी लोग बौद्ध धर्म को मानने वाले हैं । बाकी धर्मों में 12 प्रतिशत हिंदू , 9 प्रतिशत मुस्लिम लोग भी हैं जबकि 7 प्रतिशत क्रिश्चियन हैं।

श्रीलंका के खानपान में वेजिटेरियन डिशेज़ की अच्छी-खासी वैराइटी शामिल है। श्रीलंकन लोगों के खान-पान में चावल का सबसे महत्वपूर्ण स्थान है।यहां नाश्ते में आपको खासतौर पर चावल से बनी नूडल्स खाने को मिलेंगे जो यहां की सबसे पसंदीदा डिश है। इसके आलावा नारियल इनके करीब-करीब सभी पकवानों का हिस्सा होता है ।

श्रीलंका के कुछ मशहूर स्ट्रीट फूड्स हैं –

कोटु रोटी –

जैसे वडा पाव मुंबई के लिए है और हैम्बर्गर अमेरिका के लिए है, कोटू श्रीलंका के लिए हैयह रोटी बचे हुए खाने से तैयार की जाती है। रोटी को अलग-अलग तरह की सब्जियों, मीट, सोया सॉस, मसालों और अदरक-लहसुन के साथ अच्छे से मिक्स किया जाता है।

गोटू कोला मालूंग (सलाद)-

बारीक कटी हरी सब्जियों पर नमक, मिर्च, अदरक और नींबू के साथ सर्व किए जाने वाले इस सलाद में भी कोकोनट मिल्क का इस्तेमाल किया जाता है। गोटू कोला पत्तियों से सलाद को चटपटा स्वाद दिया जाता है।

एगप्लांट (वामबाटू) मोज़ू –

अचार जैसे स्वाद वाली इस डिश को चावल के साथ परोसा जाता है। बैंगन के पतले-पतले टुकड़े कर उसे डीप फ्राई किया जाता है फिर इसे मिर्च, सरसों, लौंग, नमक, चीनी और सिरके से बने सॉस में डालकर सर्व किया जाता है।

एग हूपर्स विद सेंबोल –

यह खमीर वाले चावल, कोकोनट मिल्क, पानी और चीनी के साथ बनाया जाता है। इस मिक्सचर को तेल में फ्राई करते हैं। इसके ऊपर अंडा तोड़कर डाला जाता है वो भी उसी दौरान फ्राई हो जाता है। ट्रेडिशनली इसे नारियल के खोपरे के अंदर पकाया जाता है जिससे इसका स्वाद अलग हो जाता है।

मछली करी –

एक द्वीप होने के नाते मछली श्रीलंका के भोजन का एक बहुत ही आवश्यक अंग हैं । इसलिए यहा मछली कड़ी काफी ज्यादा प्रसिद्ध हैं । इसे स्वादिष्ट खट्टी मछली करी या मछली अंबुल थियाल भी कहा जाता है। इसे चावल के साथ परोसा जाता है, अंबुल थियाल में एक विशिष्ट खट्टा स्वाद होता है जो श्रीलंका में उष्णकटिबंधीय फल गोरका से प्राप्त होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.