क्या कारण रहा होगा कि wtc के फाइनल मैच में न्यूजीलैंड ने स्पिनर की जगह तेज गेंदबाजों को खिलाया ? जानिए वजह

ये एक ऐसा सवाल है, जो फिलहाल बहुत से लोगों के मन में तैर रहा है। लेकिन जहां तक भारत का स्पिनर खिलाने और न्यूजीलैंड के नही खिलाने का सवाल हैं। तो इसके लिए केवल एक कारण उत्तरदायी नहीं है। इसके बहुत से कारण है। पहला तो शायद सबसे चर्चित भी है और वो है हरी पिच पर तेज गेंदबाजों को अतिरिक्त मदद मिलना।

ये तो हम सभी जानते है कि न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज उनके स्पिनरों से बेहतर है। और इस पिच पर उन्हें अतिरिक्त मदद भी हैं। इसके पीछे शायद यही सोच होगी। दूसरा कारण आप भारतीय बल्लेबाजों का स्पिन को अच्छा खेलना और स्विंग बोलिंग के खिलाफ लड़खाने को मान सकते है। क्योंकि ये वही टीम है जिसने पिछले कुछ समय से भारतीय टीम को तंग किया है। चाहे वो वर्ल्ड कप का सेमी फाइनल हो या फिर उनके देश में हुई टेस्ट सीरीज। इसमें उनकी स्विंग बोलिंग का अहम योगदान रहा है।

और तीसरा और सबसे महत्वपूर्ण कारण ( कम से कम मेरी नजर में )। वो ये है कि न्यूजीलैंड के पास हमारे स्तर के स्पिन गेंदबाज नहीं है। तो समझदारी इसी में है कि फालतू नियमों या प्रोटोकोल को निभाने के बजाए पूरी ताकत के साथ जाया जाए। तो में तो यहीं कहूंगा की ये न्यूजीलैंड का समझदारी भरा कदम है। जो अंत में बहुत महत्वपूर्ण साबित हो सकता है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *