क्या खान पान रखें जिससे शरीर की खुजली बंद हो जाये?

आयुर्वेद में खुजली को कण्डु कहा गया है। यह एक स्वतंत्र रोग न होकर कई रोगों का लक्षण है।

प्रात: खाली पेट 20-25 मि.ली. एलोवेरा का जूस पीने से सभीप्रकार के त्वक् विकार एवं खुजली से राहत मिलती है।

केले का करें सेवन ज्यादा करे।क्योंकि यह पोटेशियम, मैग्नेशियम और विटामिन सी भी होता है।

सुबह-शाम गिलोय के रस का सेवन करने से भी खुजली और त्वचा रोग से आराम मिलता है।

कद्दू का बीज का सेवन लाभप्रद होता है।

तिल का सेवन से भी त्वचा संबंधी रोग ठीक होते है।

सूरजमुखी के बीज से भी खुजली में फायदा होता है।

अलसी के बीज का सेवन प्रतिदिन करे।

हरी सब्जियों और हरी पत्तेदार सब्जियों को आहार में ज्यादा से ज्यादा शामिल करे।

फलों का सेवन भी त्वचा रोग में लाभकारी है।

खाली पेट नींबू रस को पानी में मिलाकर सेवन करें।

बैगन की सब्जी त्वचा विकार या खुजली में नहीं करे।

एलोवेरा के पल्प को निकालकर त्वचा पर लगाएँ तथा 15 मिनट बाद गरम पानी से धो लें।

नींबू रस को त्वचा पर लगाए।

नारियल तेल को खुजली वाली जगह लगाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.