क्या छत पर सफेद उल्लू का बैठना अपशकुन होता है? जानिए सच

यूं तो उल्लू को लक्ष्मी का वाहन माना गया है, लेकिन इस पक्षी को लेकर कई तरह के शगुन-अपशगुन भी प्रचलित हैं। कहीं उल्लू नजर आना शुभ माना जाता है तो कहीं अशुभ। एक नजर ऐसी ही मान्यताओं पर –

उल्लू को लेकर सबसे आम धारणा यह है कि यदि किसी घर पर बैठा दिखाई दिया है तो मान लिया जाता है कि वहां कुछ अशुभ होने वाला है। यानी जल्द ही वह घर खंडहर में तब्दील हो जाएगा। उस घर में रहने वालों पर कोई बड़ी परेशानी आने वाली है।

इसी तरह धर्म ग्रंथों में कहीं-कहीं बताया गया है कि छत पर उल्लू का बैठना बहुत बुरा माना जाता है। यह इस बात का संकेत होता है कि उस घर के किसी सदस्य की मौत होने वाली है।

Image result for क्या छत पर सफेद उल्लू का बैठना अपशकुन होता है? जानिए सच

इससे ठीक उल्ट एक अन्य मान्यता यह है कि रात में यह पक्षी खास तरह की आवाज करते हुए पाया जाए तो मतलब है कि कुछ अच्छा होने वाला है। अगर किसी मेहमान के पीछे की तरफ उल्लू दिखाई दे तो काम में सफलता मिलने के योग बढ़ जाते हैं।

जिसको उल्लू रोता हुए नजर आ जाए तो माना जाता है कि उस व्यक्ति को धन की हानि होने वाली है। भारत में कहीं-कहीं यह भी कहा जाता है कि तीन दिन तक उल्लू लगातार रोए तो समझो आसपास कहीं डकैती या चोरी होने वाली है।

कुछ लोगों के लिए उल्लू का बायीं या दायीं ओर बोलना बहुत मायने रखता है। उनके मुताबिक, यदि उल्लू बायीं ओर बोला है तो शुभ है। अगर किसी ने अपने दाहिने तरफ उल्लू देखा और बोलते हुए सुना जाए तो अशुभ संकेत होता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.