क्या पितृपक्ष में दान करने से पितृदोष से मुक्ति मिलती है

यह हमारे धर्म में स्‍थापित आडम्‍बर से अधिक कुछ नहीं है। दान पाने वाले का भला होता है। यदि आप सक्षम है तो आपको कमजोर लोगों की सहायता करनी चाहिये। किन्‍तु इसकेबदले में किसी प्रकार की अपेक्षा अनुचित है। आप दान कर रहे है कोई धंधा नहीं है। और दान करना पुर्णतया आपकी इच्‍छा पर निभर्र करता है।

जहां तक पित़दोष का प्रश्‍न है। तो यह एक अज्ञात क्षेत्र है जिसके बारे में कुछ लोग स्‍वयं को विशेषज्ञ बताते है। वे ही दोष बता देते है, वे ही उपाय बता देते है। वे स्‍वयं के जैसे लोगों का भला करने जैसे उपाय बताते है तथा स्‍वयं के कुटुम्‍ब कबिलों का भला करते है।

वास्‍तव में पित जैसा कुछ अस्तिव में है भी या नहीं इसको जाने बिना अबोध लोग इनके चंगुल में फसे रहेते है। जिनका एक वर्ग विशेष भरपुर फायदा उठाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.