क्या सूर्य की किरणों से भी बीमारियों से छुटकारा पाया जा सकता है?

सूर्य स्वास्थ्य और जीवन शक्ति का भण्डार है। मनुष्य सूर्य के जितना अधिक सम्पर्क में रहेगा उतना ही अधिक स्वस्थ रहेगा। जो लोग अपने घर को चारों तरफ से खिड़कियों को बन्द करके रखते हैं और सूर्य की किरणों को घर में घूसने नहीं देते वह हमेशा रोगी बने रहते हैं। जहां सूर्य की किरणें पहुंचती है वहां रोगों के कीटाणु मर जाते हैं और रोगों का जन्म ही नहीं हो पाता।

सूर्य अपनी किरणों द्वारा अनेक प्रकार के आवश्यक तत्वों की वर्षा करता है, जिससे असाध्य रोग भी दूर हो जाते हैं। जो व्यक्ति सूर्याेदय के समय सूर्य की लाल किरणों का सेवन करते हैं, उसे हृदय रोग कभी नहीं होता। जो लोग सूर्य की किरणों में खुले शरीर बैठते हैं, उन्हें पीलिया रोग में लाभ होता है।

सुबह के समय उगते सूर्य की लाल किरणों को देखने से आंखों के सभी रोग दूर हो जाते हैं। नदी या तालाब के पानी में सूर्य की परछाई को देखने से आंखों की रोशनी तेज हो जाती है। सुबह के समय एक लोटे में पानी भरकर उस पानी को सूर्य के सामने धार के रूप में गिराते हुए उस पानी की धार के बीच से सूर्य के दर्शन करने से शारीरिक और मानसिक रोग समाप्त हो जाते हैं।

इसके अलावा यह उर्जा स्नायु की कमजोरी को समाप्त कर मांसपेशियों को मजबूत बनाती है। इम्यून सिस्टम मजबूत होता है और विटामिन डी की कमी दूर होती है। तनाव से मुक्ति मिलती है और रात को गहरी नींद आती है। कैल्शियम और फास्फोरस को संतुलित करके हड्डियों को मजबूत करती है। इससे दिमाग और शरीर का विकास होता है। इन किरणों से रक्त के अन्दर लाल और सफेद कणों की संख्या बढ़ जाती है और हानिकारक कीटाणुओं को नष्ट करने की शक्ति की वृद्धि होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.