घर पर मुरमुरे बनाने की क्या विधि है? जानिए

घर पर मुरमुरे बनाना कोई बहुत कठिन काम नही है, पर आसान भी नही है। इसे बनाने मे “तकनीक” व “धान का प्रकार” बहुत महत्वपूर्ण होता है।

आवश्यक सामग्री –

कोई भी साधारण “धान” – 250 ग्राम

(धान अर्थात छिलके सहित चावल)

नमक – एक टी स्पून

बारीक रेत या नमक – 1/2 किलो भूनने हेतु

विधी –

करीब एक लिटर पानी मे नमक व धान डालें। उसे तेज आंच पर रखें, जब वह उबलने लगे, आंच धीमी कर करीब 10 से 20 मिनट उबलने दें।

इसे किस धान के लिए कितनी देर उबालना है, यह आप कई प्रयासों के बाद ही सीख सकेंगे।

अब उबली धान को धूप सुखाना है, उसे इतना सुखाना है, कि छिलकों के अंदर के पके चावलों मे बहुत हल्की नमी रह जाऐ।

कारण भूनते समय यही नमी भाप बनकर चावल को फुलाकर मुरमुरे मे बदल देती है।

कितनी नमी शेष रहे, यह भी टेकनीक व अनुभव की ही बात है।

अगर हम इसी स्टेज मे इस धान को भूनें तो इसकी “खील” बनेगी, जो दीवाली के समय “खील-बताशे” के प्रसाद मे चढाऐ जाते हैं, पर हमे तो मुरमुरे बनाने हैं।

अब इस धान को कूट कर छिलका हटाना है। घर मे यह कार्य फूड प्रॉसेसर से किऐ जाने की संभावना है, कारण आजकल “ऊखल व मूसल” तो नही के बराबर बचे हैं।

छिलका हटने के बाद अब इन चावलों को भूना जाऐगा।

एक कडाही मे छानी हुई बारीक रेत या नमक लें व कडाही को तेज आंच पर गर्म करें, जब रेत/नमक गर्म हो जाऐ तब आंच मीडियम करें, व थोडे थोडे चावल डालकर लगातार चलाऐं, चावल फूलकर मुरमुरे तैयार हो जाऐंगे। इन्हे तुरंत एक छलनी से छान कर अलग कर लें, अन्यथा ये तुरंत जल जाऐंगे।

इसी प्रकार सभी चावलों के मुरमुरे बना लें।

मुरमुरे बनाने का एक शॉर्टकट तरीका भी है।

इस हेतु “बॉइल्ड राइस” (उसना चावल) लें, व उसे गर्म नमकीन पानी मे 10 मिनट के लिए भीगने दें। अब उन्हे पानी से निकाल कर एक मोके कपडे पर फैला कर 1 घंटा सूखने दें।

अब उन्हे पहले बताऐ गए तरीके से गर्म रेत/नमक मे सेंकें। इस तरीके से भी मुरमुरे बन सकते हैं, पर उसकी गुणवत्ता बहुत अच्छी नही होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.