घोड़े की खोज में गए सगर के 60,000 पुत्रों का क्या हुआ ? जानिए

राजा सगर के पुत्र जब यज्ञ पूर्ण करने के लिए अपने पिता की आज्ञा से घोडा ढूंढते हुए सारी दुनियाँ छान रहे थे तो कहीं घोड़े का पता नहीं मिला तब उनहुने सारी धरती को को खोदना सुरू कर दिया

जिससे कई निर्दोष प्राणियों की जान चले गई घोडा ढूढ ते हुए जब वे कपिल मुनि के आश्रम मे गए तो उनहुने देखा की घोडा यहाँ बंधा हुआ है उहनूने बिना सोचे समझे कपिल मुनि के साथ दुर्वचन कहे परंतु कपिल मुनि तो अपनी तपस्या मे लीन थे जब उनहुने अपना अपमान देखा तो उहनूने अपने श्राप

से सगर के 60,000 पुत्रों को भष्म कर दिया।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *