जानिए किस तरह बांग्लादेश सारी दुनिया से अलग है?

बांग्लादेश दुनिया के देशों से काफी अलग है ऐसा कह सकते हैं बांग्लादेश दुनिया के सबसे घनी आबादी वाले देशों में से एक हैं दुनिया में चौथे नंबर का मुस्लिम आबादी वाला देश है बांग्लादेश का गरीबी से विकास की और का सफर काफी रोचक है हाल के कुछ साल में बांग्लादेश ने काफी तरक्की कर ली है एक वक्त बांग्लादेश दुनिया के सबसे गरीब देशों में शामिल था लेकिन आज वह गरीब देशों की सूची में से बाहर निकल गया है

दो बार आजाद हुआ देश

जब भारत और पाकिस्तान का विभाजन हुआ तब बांग्लादेश पश्चिम ( ईस्ट)पाकिस्तान के रूप में अस्तित्व में आया और मौजूदा पाकिस्तान पूर्व (वेस्ट) पाकिस्तान के रूप में अस्तित्व में आया बांग्लादेश 1947 में भारत के साथ आजाद हुआ पूर्वी पाकिस्तान के रूप में लेकिन पूर्वी पाकिस्तान और पश्चिम पाकिस्तान के बीच विवाद काफी बढ़ गया और शेख मुजीबुर रहमान ने स्वतंत्रता बांग्लादेश की मांग की भारत ने स्वतंत्र बांग्लादेश का समर्थन किया भारत और पाकिस्तान का उसी दौरान युद्ध हुआ और युद्ध के बाद पाकिस्तान का विभाजन हो गया बांग्लादेश का जन्म हुआ 1971 में भारत पाकिस्तान के युद्ध के बाद बांग्लादेश का जन्म हुआ उस तरह से बांग्लादेश दो बार आजाद हुआ

बांग्लादेश की भाषा और संस्कृति

बांग्लादेश की भाषा बंगाली है जो भारत के पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश की भाषा एक ही है पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश की संस्कृति लगभग एक समान जैसी है बांग्लादेश और पश्चिम बंगाल दोनों राज्यों में एक जैसे ही त्यौहार मनाए जाते हैं

भारत के बाद सबसे ज्यादा हिंदू आबादी वाला बांग्लादेश

भारत के बाद दुनिया में सबसे बड़ी हिंदू आबादी का घर बांग्लादेश है बांग्लादेश में तकरीबन 8:5 पर्सेंट हिंदू रहते हैं बांग्लादेश में तकरीबन पौने दो करोड़ करोड़ हिंदू रहते हैं बांग्लादेश से हर साल हजारों लाखों की संख्या में हिंदू गैरकानूनी तरीके से भारत में पलायन कर रहे हैं जिससे बांग्लादेश में लगातार हिंदू आबादी घट रही हैं

बांग्लादेश में बढ़ती इस्लामिक कट्टरपंथियों की ताकत

वैसे तो बांग्लादेश के लोग हमेशा नरम पंथ इस्लामी रखे हैं बांग्लादेश के भूतपूर्व प्रधानमंत्री बेगम खालिदा जिया के समय में हिंदू धर्म और अन्य अल्पसंख्यकों की स्थिति अत्यंत खराब हो गई थी लेकिन हाल की प्रधानमंत्री शेख हसीना के कारण हाल में शांति बनी हुई है और अल्पसंख्यकों की स्थिति में सुधार हुआ है आने वाले समय में हिंदू अल्पसंख्यकों की स्थिति और खराब होने की संभावना है क्योंकि धार्मिक कट्टरपंथी ताकते मजबूत होती जा रही है हिंदू अत्याचारों के कारण लगातार हिंदू देश छोड़कर भारत की ओर रुख कर रहे हैं

गरीब से विकास की और का बांग्लादेश का सफर

कुछ साल पहले तक बांग्लादेश दुनिया के सबसे गरीब देशों में शुमार था लेकिन आज बांग्लादेश दुनिया के सातवीं सबसे तेजी से विकसित हो रही अर्थव्यवस्था है बांग्लादेश में कपड़े बनाने में भारत और चीन दोनों को पीछे छोड़ दिया है और दुनिया भर में रेडीमेड कपड़ों का बांग्लादेश सस्ते दामों पर निर्यात कर रहा है इसके अलावा भी बांग्लादेश मैं तेजी से कहीं उद्योग धंधे का विकास हो रहा है जिस वजह से बांग्लादेश एक गरीब देश में से विकसित देशों की श्रेणी में आ गया है बांग्लादेश ने जैसे के आर्थिक चमत्कार कर दिया.

बांग्लादेश में कानूनी वेश्यावृत्ति

बांग्लादेश के कानून के मुताबिक कोई भी वयस्क स्त्री कानूनी तौर पर वेश्यावृत्ति का धंधा कर सकती हैं बांग्लादेश उन गिने-चुने इस्लामिक मुल्कों में शामिल है जहां वेश्यावृत्ति कानूनी है बांग्लादेश में कानून के मुताबिक जो महिला वेश्यावृत्ति करती है उसे कानूनी तौर पर एफिडेविट कोर्ट में करना पड़ता है कि वह वेश्यावृत्ति मैं शामिल हो रही है बांग्लादेश में कानूनी तौर पर18 रेड लाइट एरिया जहां पर हर साल 20000 बच्चे जन्म लेते हैं

मानव तस्करी

गरीबी भूख अशिक्षा बेरोजगारी की वजह से लाखों बांग्लादेशी और साल सऊदी कुवैत इराक लेबनान मलेशिया यूएई बहरीन कतर जैसे देशों में काम करने के लिए जाते हैं उनमें से हजारों लोग गैर कानूनी तौर पर वहां पर काम करने जाते हैं और वहां पर उन्हें मानव बंधक बनाकर रखा जाता है हजारों बांग्लादेशी युवतियों को इन देशों में वेश्यावृत्ति में धकेल दिया जाता है

बांग्लादेश से हजारों युवतियों को हर साल झांसा देकर सबसे ज्यादा भारत में लाया जाता है बाद में उन्हें कोलकाता दिल्ली मुंबई के वेश्यालय में उन्हें बेच दिया जाता है भारत और बांग्लादेश की सीमा से गैर कानूनी तौर से उन्हें भारत में लाया जाता है बंगाली भाषा बोलने की वजह से वह भारतीय है या बांग्लादेशी यह पहचान करना मुश्किल हो जाता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.