जानिए क्या घर बनवाते समय फर्श में संगमरमर लगवाना बेहतर होगा?

फर्श में संगमरमर,टाईल, मोजाइक,सीमेंट का प्रयोग होता आया है। संगमरमर का फर्श एक मंहगा विकल्प है, इसे लगाने में काफी समय लगता है, पहले पत्थर को काटकर आवश्यकतानुसार साइज बनाना होता है,फिर इसे लगाकर घिसाई करना होता है, पत्थर के चयन में भी काफी समय लगता है, प्राकृतिक होने के कारण कलर की विभिन्नता समस्या पैदा करती है, कटिंग से वेस्टेज 20% से अधिक होता है,फिटिंग हेतु विशेषज्ञ मिस्रीयों की आवश्यकता होता है।

संगमरमर लगने के बाद इसमें चाय, हल्दी, रंग आदि के दाग धब्बे भी समस्या कारक हैं। पत्थर में महीन छेद (porosity) होती है जिससे जमीन के पानी से भी नमी आ जाती है और दाग धब्बे बनते हैं। प्राकृतिक होने के कारण ठंडक भी रहती है इस कारण उपयोग कर्ता को पैर एवं घुटने दर्द की शिकायत देखी जाती है। इन सभी कारणों से आजकल टाईल का प्रचलन बढ गया है।

टाईल फ्लोर किफायती,आकर्षक, फिटिंग आसान, वेस्टेज कम, कई रंग डिजाइन, फिनिश में विकल्प उपलब्धता, कीमत कम से मंहगे की विस्तृत श्रृंखला, सामान्य मिस्री लगा लेते हैं, कम समय में लगाया जा सकता है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *