जानिए क्रिकेट में ग्लेन मैक्ग्रा इतने प्रभावशाली क्यों थे?

ग्लेन मैक्ग्रा की सफलता के मुख्य कारण इस प्रकार हैं:

उनके सर्वश्रेष्ठ होने का मुख्य कारण उनका अनुशासन, निरंतरता और धैर्य था। वह एक लाइन और लेंथ पर गेंदबाजी करते रहते थे। जब वह बिना विकेट के या स्पिन पिचों पर लंबे स्पैल फेंक रहे थे तब भी वह कभी निराश नहीं हुए।

वह लगभग 6.5 फीट की ऊंचाई वाले एक लंबे खिलाडी थे और इसलिए उन्हें विकेट से अतिरिक्त उछाल मिलता था।

आज हम देख सकते हैं कि लंबे रन अप वाले गेंदबाज 145 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाजी करते हैं बाबजूद इसके बल्लेबाज इसे आक्रामकता से प्रहार करते हैं। उनकी सबसे खास क्षमता यह थी कि वह कभी भी गति पर निर्भर नहीं रहते थे , वह सटीक और अच्छी लाइनों पर गेंद फेंकते थे जिससे बल्लेबाज को शॉट खेलने का मौका नहीं मिलता था।

उनकी एक और अच्छी क्षमता यह थी कि वे विपक्ष के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज को निशाना बनाते थे जो इस बात से स्पष्ट है कि उन्होंने तेंदुलकर को 13 बार और लारा को 18 बार आउट किया।

उनकी सटीकता के कारण वे उन दुर्लभ तेज गेंदबाजों में से एक हैं जिनका एशिया में शानदार रिकॉर्ड रहा है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *