जानिए टिम्बर को सिजिनिंग की क्या विधि है, और इसके लिए मशीन कहाँ मिलती है?

टिम्बर सीजनिग का अर्थ लकडी मे व्याप्त नमी को सुखाना है। जिससे दरवाजे खिडकी बनाने के बाद वह टेढे न हो जाए। लकडी के पटरों को थोडा गैप रखते हुए इस प्रकार से रखा जाता है सब जगह समान हवा लगे। एक लट्ठे से प्राप्त लकडी को लगभग दो महीने लगते है सुखाने मे।

जब लकडी पूरी तरह से नमी रहित हो जाती है तब उससे दरवाजा खिडकी चौखट बनाये जाते है। और बाद में इनका शेप नही बदलता है। 9 हार्स पावर की सेमी आटोमेटिक मशीन की कीमत 1,80,000 होती है।

सीजनिंग प्लांट में ऐसी मशीने लगी होती है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *