जानिए डेबिट कार्ड के ब्लॉक होने के बड़े कारण

आजकल ये देखा जा रहा है कि बहुत से ग्राहकों का डेबिट कार्ड या तो ब्लॉक हो गया है या तो वो उस कार्ड का पूरी तरह से प्रयोग नही कर पा रहे जैसे वो पहले करते थे। इसका क्या कारण है? ऐसा क्यों हो रहा है? और कैसे हम इस समस्या को दूर करे ? आज मैं आपको यही बताऊंगा तो मेरे साथ बने रहे और आर्टिकल को पूरा पढ़े। तो चलिए शुरू करते हैं।

तो देखो कहानी ये है कि आरबीआई ने एक निर्देश जारी किया है जिसमे उसने सभी बैंकिंग संस्थान को ये कहा था कि वो अपने ग्राहकों की सुरक्षा के लिए यानि की उन्हें ऑनलाइन फ्रॉड से बचाने के लिए नीचे दिए नियमो को लागू करे। आइये देखते है उन नियमो को।

बैंक अपने ग्राहकों को सुविधा दे जिसमे ग्राहक अपने एटीएम या डेबिट कार्ड से कितना खर्च करना है या कितना पैसा विथड्रॉ करना है उसकी सीमा निर्धारित कर सके।
उन सभी डेबिट कार्ड्स के ऑनलाइन ट्रांसक्शन्स को ब्लॉक कर दे जिनसे ग्राहकों ने लंबे समय से कोई लेनदेन ना की हो। इसी वजह से इस समय बहुत से ग्राहकों के डेबिट कार्ड बंद हैं।
अब डेबिट कार्ड से ऑनलाइन ट्रांसक्शन्स करने से पहले आपको अपने बैंक को पहले बताना होगा नही तो अब आप अपने डेबिट से ऑनलाइन लेनदेन नही कर सकते।
अब विदेशी मुद्रा में भुगतान भी तब तक नही कर सकते जब तक आप अपने संबंधित बैंक को नही बता देते आप अब सिर्फ नगद निकासी और पॉइंट ऑफ़ स्केल के लिए ही कर सकते है बिना अपने सम्बंधित बैंक को बताये।
अब यदि आपको दस हजार रुपये से ज्यादा एटीएम से विथड्रॉ करने है तो अब आपको एक वन टाइम टाइम पासवर्ड की जरुरत होगी तभी आप एटीएम से दस हजार रुपये से ज्यादा निकाल सकते हैं अपने एटीएम कार्ड से।तो ये थे वो नियम जो आरबीआई द्वारा निर्धारित किये गए हैं। ग्राहकों को ऑनलाइन फ्रॉड से बचाने के लिए।

अब क्या करे

अगर आपका भी डेबिट कार्ड ब्लॉक हो गया है तो या आप ऑनलाइन लेनदेन नही कर पा रहे है तो सबसे पहले आप आपने बैंक द्वारा जारी की गयी वेबसाइट या मोबाइल एप्लीकेशन के द्वारा उसमे लॉगिन कर ये देखे की कही ऑनलाइन लेनदेन बंद तो नही है अगर बंद है तो उसे वही से शुरू कर ले और यदि आपका बैंक आपको ऑनलाइन सुविधा नही देता तो अपनी शाखा से संपर्क करे। आपको वैसे भी ब्लॉक एटीएम की सर्विस के लिए शाखा से संपर्क तो करना ही होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.