जानिए फायर चैट क्या है? यह कैसे काम करता है?

हांगकांग में चीन के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान फायर चैट पूरी दुनिया में चर्चा चर्चा में आ गया…

दरअसल चीन सरकार ने इंटरनेट बंद कर दिया था लेकिन फिर भी चीन सरकार हैरान थी कि इंटरनेट बंद होने के बाद भी सारे प्रदर्शनकारी एक दूसरे को मैसेज कैसे भेज पा रहे हैं और कैसे इकट्ठे हो रहे हैं।

फिर पता चला कि हांगकांग के प्रदर्शनकारी इसके लिए फायर चैट नामक ऐप का इस्तेमाल करते थे।

फायर चैटिंग बेहद दिलचस्प ऐप है जो इंटरनेट नहीं होने पर भी कम्युनिकेशन करती है वह भी बिल्कुल फ्री।

फायर चैट को ओपन गार्डन नामक कंपनी ने विकसित किया है जो स्मार्टफोन को ब्लूटूथ, वाईफाई या फिर एप्पल के मल्टीपल कनेक्टिविटी फ्रेमवर्क के माध्यम से पीयर टू पीयर कनेक्ट करके वायरलेस नेटवर्किंग सिस्टम बना देता है।

शुरुआत में फायर चैट सिर्फ आई फोन के जरिए ही हो सकता था लेकिन कुछ साल पहले से इसे एंड्रॉयड पर भी उपलब्ध करा दिया गया है।

यह एप एक लोकल चैट रूम की तरह काम करता है आपको बस एक यूजर नेम बनाना है इसमें किसी तरह के पासवर्ड की जरूरत नहीं होती और आपका फोन ऑटोमेटिक हर उस फोन से जुड़ जाएगा जो आपके नजदीक होगा फिर उसका फोन उससे जुड़ेगा जो उससे नजदीक होगा इस तरह से यह ऐप लाखों मोबाइल फोन का एक नेटवर्क बना देता है जो एक दूसरे से कनेक्ट हो सकते हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published.