जानिए मेहमान को घर से प्रस्थान करने पर बाहर दरवाजे तक छोड़ना कितना महत्वपूर्ण है?

मेहमान को हम लोग तो घर से प्रस्थान करते समय बाहर दरवाजे तक ही नहीं बल्कि घर के बाहर निकलकर कुछ कदम साथ जाकर छोड़ते है। इसके पीछे कारण ये है कि इससे मेहमान को आत्मीयता महसूस होती है। उसे ऐसा नहीं लगता कि वह मेजबान पर बोझ था या उसका आना अरुचिकर लगा।

ऐसा करने आत्मीयता ,प्रेम वगेरह बढ़ता है । हम लोग तो मेहमान को छोड़ते हुए ये भी कहते है कि फिर आइएगा।दूसरी बात मेहमान के जाने के बाद घर के दरवाजे को भी जोर से बन्द नहीं करना चाहिए वरना मेहमान को ऐसा महसूस होता है।

कि ये लोग मेरे वापस जाने की ही राह देख रहे थे।इसलिए दरवाजा भी धीमे से ही बंद करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.