ट्रांसफार्मर में तेल का उपयोग क्यों किया जाता है? इस तेल की क्या विशेषता होती है? जानिए

जब कोई भी पावर ट्रासफॉर्मर विद्युतधारा को हस्तांतरित कर रहा होता है, उससे बहने वाली कुछ विद्युतधारा की हानि होती है, वह हानि ट्रांसफार्मर को गर्म कर देती है।

इसी गर्मी को हवा मे स्थानांतरित करने हेतु, अर्थात उसे ठंडा करने हेतु हर ट्रांसफार्मर मे अधिकांशतः तेल व रेडियेटर का उपयोग किया जाता है।

इस तेल की खूबियां निम्नलिखित हैं –

ट्रान्सफॉर्मर तेल का विद्युत इन्सुलेशन का गुण उत्तम होता है।

उसका विद्युत इन्सुलेशन का गुण उच्च ताप पर भी बना यहता है।

उच्च ताप पर भी वह एक सीमा से अधिक पतला नही होता।

इस तेल मे कोरोना डिस्चार्ज रोकने का गुण है।

इस तेल मे आर्किंग रोकने का गुण है।

यह शीतल करने का काम भी बडी कुशलता से करता है।

इस तेल का फ्लैश पॉइंट काफी अधिक होता है, अर्थात उसमे आसानी से आग नही लगती।

ट्रान्सफॉर्मर तेल अधिकांशतः खनिज तेल (पेट्रोलियम) पर आधारित होता है।

यहां मै दो चित्र दे रहा हूं जिससे ट्रांसफॉर्मर मे तेल के बहाव व शीतलन (कूलिंग) का सिद्धांत समझना आसान हो जाऐगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.