ठीक से सुखाने के बावजूद सर्विस सेंटर को यह कैसे पता चलता है कि मोबाइल पानी में गिरा था? जानिए

बारिश में भीग जाने या पानी में गिरने से Mobile काम करना बंद कर देते हैं. इस पोस्ट में यह बताया जा रहा है कि Wet mobile को कैसे बंद हो जाने से बचाया जाए या भीगने के कारण बंद हो चुके Phone को कैसे चालू किया जाए.

– सबसे पहले तो यह जान लें कि ज्यादातर Mobile की वारंटी फोन के भीग जाने पर स्वतः समाप्त हो जाती है. यदि Service Center वालों को यह पता चल गया कि फोन भीग चुका है तो वे उसे Repair के लिए नहीं लेंगे. मोबाइल की Battery के पास एक स्टीकर लगा होता है जो फोन के भीतर पानी चले जाने पर रंग बदल लेता है.

– यदि मोबाइल बहुत मामूली रूप से भीग गया हो और sticker का color बदला नहीं हो तो उसे service center को रिपेयर करने के लिए दिया जा सकता है. यदि आप खुद ही उसे ठीक करना चाहते हों तो नीचे दिए गए तरीकों से कर सकते हैं.

सावधानीः भीग चुके फोन को ठीक करने से पहले उसकी बैटरी, बैक कवर, सिम कार्ड, और मेमोरी कार्ड निकालकर संभाल कर रख लें.

मोबाइल के भीग जाने पर उसके भीतर नमी या Moisture चला जाता है. यह मोबाइल के इलेक्ट्रानिक पार्ट्स में चले जाने पर फोन गड़बड़ियां करने लगता है या उसे चालू नहीं होने देता. हो सकता है कि ज्यादा भीग जाने पर भी आपका Mobile पहले जैसा चल रहा हो लेकिन एहतियात के लिए उसे एक बार खोलकर सुखा लेना चाहिए ताकि नमी के गहराई में चले जाने पर बाद में कोई प्रॉब्लम न हो.

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *