डियोडेरेंट, परफ्यूम और बॉडी स्प्रे में क्या फर्क है? इनको इस्तेमाल करने का सही तरीका क्या है?

डिओडरेंट : यह आर्मपिट पर लगाया जाता है। यह पसीने को रोकता है या यूं कहे कि पसीने की दुर्गन्ध को दूर करता है।

बॉडी स्प्रे : यह परफ्यूम जैसा ही रहता है, परंतु इसे स्किन पर नहीं लगाते हैं। इसे सिर्फ कपड़ों पर ऊपर से स्प्रे करते हैं। इसमें एरोमैटिक एक्सट्रैक्ट, ऑयल के अलावा वॉटर और अल्कोहॉल का भी मिश्रण रहता है।

परफ्यूम : इसमें सिर्फ एरोमैटिक एक्सट्रैक्ट और ऑयल का मिश्रण होता है और यह बॉडी स्प्रे की तुलना में थोड़ा गाढ़ा होता है।

जहां से हमारी नस उभरी हुई दिखती है वहां बॉडी हीट ज्यादा रिलीज होती है। तो परफ्यूम को पल्स पॉइंट पर लगाते हैं। जैसे, कलाई की नब्ज़, कानों के पास, कूहनी के विपरीत दिशा में या फिर घुटनों के पीछे।

इसे लगा कर सिर्फ डेब करे, रब नहीं। इसे अपने सामने स्प्रे करके उसी दिशा में जाए फिर वापस आ जाए। इससे कपड़ों पर इसकी एक परत चढ़ जाती है। हालांकि इसे रोज़ लगाने से माइग्रेन, सिर दर्द, एंजाइटी हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.