दक्षिण भारतीय लोग केले के पत्तों में खाना क्यों खातें हैं?

केले के पत्ते पर भोजन खाने की परंपरा बहुत पुराने समय से चली आ रही है। लेकिन आजकल की लाइफस्टाइल के बदलते माहौल में लोग चीनी बर्तन व स्टील के प्लेटो में खाना परोसने लगे है। हालांकि भारत में कुछ ऐसे भी राज्य जैसे तमिलनाडु, कर्नाटक, आंध्रप्रदेश, केरल, उड़ीसा है जो सदियों से चली आ रही परंपरा को निभाते है।

इसके अलावा यहाँ पर केले की पत्तियों को भगवान के पूजा में बड़े पैमाने का उपयोग किया जाता है। आपको जानकर हैरानी होगी केले के पत्ते में भोजन करने से शरीर को बहुत लाभ होता है,

क्योंकि केले के पत्तो में एंटी बैक्टीरियल गुण होता है,जो भोजन में मौजूद संक्रमण को ख़त्म कर देता है। केले के पत्तो में भोजन खराब नहीं होता है। केले के पत्तो का उपयोग करने से प्रदूषण में भी कमी आती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.