‘देश को ईसाई बनाने का षड्यंत्र ‘ बता कर आचार्य बालकृष्ण ने साधा निशाना

बाबा रामदेव के बयान से जहां एक ओर हंगामा मचा ही था, इसी बीच आचार्य बालकृष्ण ने एक नया हंगामा खड़ा कर दिया है। आचार्य बालकृष्ण ने एलोपैथी विवाद में नया मोड़ ला दिया है। उन्होंने एक ट्वीट कर इस पूरे मामले को ईसाई धर्मांतरण से जोड़ दिया है, जिसके बाद तल्ख टिप्पणी आनी शुरू हो गयी है। पतंजलि के एमडी आचार्य बालकृष्ण ने ट्वीट कर लिखा कि सारे देश को ईसाई धर्म मे तब्दील करने के षड्यंत्र के तहत बाबा रामदेव को टारगेट किया जा रहा है और योग तथा आयुर्वेद को बदनाम किया जा रहा है। उन्होंने आगे लिखा कि देशवासियों, अब तो गहरी नींद से जागो. नहीं तो आने वाली पीढ़ियां तुम्हें माफ नहीं करेंगी। उन्होंने एलोपैथी पर बाबा रामदेव के बोले गये डाॅक्टरों के बयान पर नया मोड़ दे दिया है। उन्होंने एलोपैथी और डाॅक्टरों के मामले को ईसाई धर्मान्तरण से जोड़ दिया है।

बाबा रामदेव के बयान पर दी सफाई
इस बीच आचार्य बालकृष्ण ने अपने एक बयान में कहा कि बाबा रामदेव कोई उपहास नहीं उड़ा रहे थे बल्कि वह सिर्फ मॉडर्न मेडिसिन लेने के बावजूद डॉक्टर्स की मौत पर दुख जता रहे थे। आचार्य बालकृष्ण ने कहा कि जितने भी वैज्ञानिक हैं, उनका पतंजलि में स्वागत है। उन्होंने कहा कि हमारे पास लाखों मरीजों का आंकड़े हैं जो कोरोनिल लेकर ठीक हुए हैं। ज्ञात हो कि बाबा रामदेव ने एक वीडियो जारी कर एलोपैथी और डाॅक्टरों को लेकर विवादित बयान दिया था जिस पर उन्हें स्वास्थ्य मंत्रालय ने पत्र लिखा था। पत्र के बाद बाबा रामदेव ने माफी मांगते हुए सफाई पेश की थी।

कांग्रेस ने आचार्य बालकृष्ण पर बोला हमला
आचार्य बालकृष्ण के ट्वीट पर सियासी प्रतिक्रिया काफी तीखी आ रही है। उत्तराखंड कांग्रेस की प्रवक्ता गरिमा मेहरा दसौनी ने आचार्य बालकृष्ण की भारतीय नागरिकता पर ही सवाल उठा दिया। उन्हें भारत के निजी मामलों में हस्तक्षेप न करने की हिदायत दे डाली। उन्होंने कहा कि लगता है आचार्य बालकृष्ण मानसिक दिवालिया हो चुके हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *