नाखूनों से जुड़ी रोचक और मज़ेदार जानकारीया

हाथों के नाखून पैरों के नाखूनों के मुकाबले चार गुणा ज्यादा तेज़ी से बढ़ते हैं।

पैरों के नाखून हाथों के नाखूनों के मुकाबले लगभग 2 गुणे मोटे होते हैं।

पैरों के नाखून एक महीने में औसतन सिर्फ 1 इंच के दसवें हिस्से जितने ही बढ़ते हैं।

हमारी middle finger यानि के सबसे बड़ी ऊंगली का नाखून सबसे ज्यादा तेज़ी से बढ़ता है।

अंगूठे का नाखून सबसे कम तेज़ी से बढ़ता है।

लगातार नाखून काटते रहने से वो तेज़ी से बढ़ते है, पर अगर नाखून रेगुलर ना काटे जाए तो वो कम तेज़ी से बढ़ते हैं।

पुरुषों के नाखून महिलाओं के मुकाबले ज्यादा तेज़ी से बढ़ते हैं।

गर्म मौसम में ठंडे के मुकाबले नाखून ज्यादा तेज़ी से बढ़ते हैं।

राते के मुकाबले दिन में नाखून ज्यादा तेज़ी से बढ़ते हैं।

युवाओं के नाखून बुजुर्गों के मुकाबले ज्यादा तेज़ी से बढ़ते हैं।

Guinness World Records के अनुसार सबसे लंबे नाखून ‘ली रेडमंड’ (Lee Redmond) नाम की महिला के हैं जिन्होंने आपने नाखूनों को साल 1979 से नहीं काटा है। उनके सभी नाखूनों की लंबाई 28 फीट से ज्यादा है।

बाल और नाखून एक ही तरह के प्रोटीन केरातिन (keratin) से बने होते हैं। पशुओं के सींग भी इसी पदार्थ के होते हैं।

अगर आप right handed है आपके right hand के नाखून left वाले के मुकाबले ज्यादा तेज़ी से बढ़ेंगे और यदि आप left handed है तो left hand के नाखून right वाले के मुकाबले ज्यादा तेज़ी से बढ़ेंगे।

Keyboard पर typing करना नाखूनों को मसाज़ देने जैसा है जो नाखून बढ़ने की रफ्तार को तेज़ करता है। (तभी मैं कहू, कि मेरे नाखून तेज़ी से क्यों बढ़ जाते है?)

डॉक्टर आपके नाखूनों को देखकर आपकी सेहत का अंदाज़ा लगा सकता है।

नाखूनों पर कहीं एक सफेद निशान, कहीं किसी सिरे पर गुलाबीपन होना या धारियां पड़ने का अर्थ है शरीर में कहीं कोई गंभीर बीमारी पनप रही है। लिवर, फेफड़ों और दिल के स्वास्थ में कहीं कोई समस्या हो तो उसके प्रमाण नाखूनों से मिल जाते हैं।

ज्यादा पानी पीने से सूखे नाखूनों से निजात पाया जा सकता है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *