पानी 1 मिनट में गर्म करना है नहाने के लिए तो Use कीजिए Instant Water Guiser

तत्काल पानी हीटर हमारे सामने एक सबसे आदर्श समाधान के रूप में पेश आते वे किसी भी प्रकार का भंडारण नहीं करते, अतः उन्हें अतिरिक्त पानी गर्म करने के रूप में या गर्म पानी बर्बाद करने का कोई मौका नहीं मिलता है| इसके अलावा इन्हे प्रयोग करने से पहले पानी हीटर स्विच ओन किया जाता हैं और प्रयोग के उपरांत इन्हे तुरंत बंद भी कर दिया जाता हैं, जिससे किसी भी प्रकार के अनावश्यक बिजली खपत से बचा जा सकता हैं| इस प्रकार बिजली की खपत उपयुक्त होती है और बहुत कम अपव्यय होता है। एक व्यक्ति के नजरिए से निश्चित रूप से यह बहुत अच्छा ही है।

तत्काल पानी हीटर की कमियां

क्यूंकि तत्काल पानी हीटर वांछित तापमान पर पानी उपलब्ध कराने के लिए बने है, इस क्षण बिजली खींचने की दर भी बहुत अधिक होती है| तो एक भंडारण वॉटर हीटर 2 किलोवाट पर मूल्यांकित किया जा सकता है, जबकि एक तत्काल वॉटर हीटर 3 से 4.5 किलोवाट तक मूल्यांकित होता है| इसलिए अगर 15 लीटर पानी को गर्म करें तो यदपि दोनों प्रक्रिया समान इकाइयों का ही सेवन करती हैं, लेकिन तत्काल पानी हीटर क्यूंकि पानी को तुरंत ही गर्म करता हैं, इसलिए वह सिस्टम पर अधिक भार डालता है और प्रणाली से अधिक बिजली खींचता हैं|

अगर आप एक ऐसे शहर की कल्पना करें जहाँ ज्यादातर लोग पानी के हीटर का उपयोग सुबह 7 से 10 बजे के बीच ही करते हैं, और इस समय के दौरान ही इन्हे स्विच ओन किया जाता हैं, अगर उनमें से ज्यादातर 4.5 किलोवाट के हैं, तो बुनियादी ढांचे पर अधिक भार आएगा और जहाँ आवश्यक बुनियादी ढांचा उपस्थित नहीं हैं, वहां लोगो को अक्सर ग्रिड फेलियर से दो-चार होना पड़ सकता हैं|

लगभग उसी तरह से जैसा सन 2012 में उत्तर भारत में हुआ था, एक भीषण ग्रिड फेलियर| हमे ऊर्जा की तत्काल बहुत अधिक आवश्यकता होगी, इसके बजाय अगर प्रणालि-व्यवस्था 2 किलोवाट के होंगे, तब पानी गर्म करने के लिए काफी समय लग सकता है, लेकिन संपूर्ण प्रणाली/ सिस्टम तनावपूर्ण कतई नहीं होगा|

व्यक्तिगत रूप से एक व्यक्ति के लिए, घर से जुड़े लोड में लगभग 2.5 किलोवाट की वृद्धि संभावित होती हैं, और फिक्स्ड कॉस्ट के मामले में अतिरिक्त पैसे भी पड़ेंगे, इसलिए इस मामले में ऊर्जा लागत में हुई बचत निर्धारित लागत (फिक्स्ड कॉस्ट) को हस्तांतरित हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.