पूरी जिंदगी चुकानी पड़ी अरुण गोविल को “रामायण” में राम बनने की सजा

दोस्तों, रामायण में निभाया गया हर कलाकार आज लोगों के दिलों में बस गया है। वे जहाँ भी जाते हैं, लोग उनका पूरा सम्मान करते हैं। तो वही रामायण के मुख्य पात्र राम और सीता के किरदार को निभाने वाले अरुण गोविल और दीपिका चिखलिया को तो लोग वास्तव में भगवान राम और सीता समझने लगे थे, और वे जहाँ भी जाते थे लोग उन्हें अपनी समस्याएँ बताते थे।

दोस्तों, शो में राम की भूमिका निभाने वाले अरुण गोविल का कहते है, कि रामायण में काम करने के बाद उनका करियर खत्म हो गया। अरुण कहते हैं, “मैं रामायण के बाद सिनेमा में वापसी करना चाहता था, लेकिन राम के रूप में मेरी छवि ऐसी बन गई कि निर्माता कोई और काम मुझे देते हि नहीं थे।

उन्हों लगता था कि मैं अब कमर्शियल फिल्मों के लिए उपयुक्त नहीं रहा हु। और यह मेरे करियर का सबसे बड़ा नकारात्मक पहलू बन गया। अपने करियर के दौरान मैंने बाद में कुछ टीवी शो भी किए, लेकिन जब भी मैं कुछ नया करता, तो लोग मुझे मना कर देते और कहते, अरे, रामजी क्या कर रहे हैं। और दर्शक भी मुझे केवल राम के रूप में देखना चाहते थे, इसीलिए रामायण में राम की भूमिका निभाने के बाद मेरा करियर लगभग खत्म हो गया था।

तो वही शो में सीता की भूमिका निभाने वाली दीपिका चिखलिया ने रामायण के बाद भी कई धारावाहिकों और फिल्मों में काम किया। लेकिन सीता का उनका किरदार भी सभी के दिमाग में बस गया था, लेकिन दीपिका ने खुद को एक छवि में नहीं बाँधा। वह हमेशा आधुनिक लुक में नजर आती हैं, हाल ही में उन्होंने फिल्म बाला में काम किया। इस फिल्म में, वह यामी गौतम की माँ बनीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.