भारतीय रेल में 110 वोल्ट की बिजली की सप्लाई क्यों होती है जबकि घरों में 220 वोल्ट की सप्लाई होती है?

जी हां बिल्कुल आपने सही कहा कि भारतीय रेल में 110 वोल्ट की बिजली की सप्लाई होती है और ऐसा इसलिए होता है ताकि कुछ असामाजिक तत्व या लोग भारतीय रेल में लगे उपकरण हो जैसे कि पंखे ट्यूब लाइट बल्ब और अन्य प्रकार के किसी भी उपकरण को उखाड़कर अपने घर ना ले जा सकते हैं .

क्योंकि वह सभी 110 वोल्ट पर चलने के लिए उपयुक्त होते हैं परंतु यदि उनको हम अपने घर में इंस्टॉल कर लेंगे तो वह 220 वोल्ट का करंट पाते ही फ्यूज हो जाएंगे या खराब हो जाएंगे अतः उन्हें 220 वोल्ट पर चलाने के लिए एक अलग से स्टेप डाउन ट्रांसफार्मर की जरूरत पड़ेगी जो कि बहुत ही मुनासिब नहीं है .

इसीलिए भारतीय रेलवे में उपकरणों की चोरी को रोकने के लिए उन्हें घरों में दी जा रही बिजली से अधिक या कम पर चलने वाला उपकरण लगाना पड़ता है और उपकरणों को चलाने के लिए भारतीय रेलवे में दिया जाता है

पहले के समय में इस प्रकार के बहुत सारे घटनाएं होती थी जिसमें पूरी रेलवे गाड़ी में कई पंखे या ट्यूबलाइट गायब होती मिल जाती थी जिसके बाद यह निर्णय लिया गया और उसके बाद इस प्रकार की घटनाओं में बहुत अधिक कमी आ गई.

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *