भारत के विश्व टेस्ट चैंपियनशिप हारने के असली कारण क्या थे? जानिए

टेस्ट क्रिकेट इतिहास के सबसे बड़े मुकाबले में भारत को न्यूजीलैंड के हाथों 8 विकेट से करारी हार का सामना करना पड़ा. दुनिया के महानतम बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने भारत की हार की असल वजह को बयां किया है. सचिन का कहना है कि टीम इंडिया को कप्तान विराट कोहली और तीसरे नंबर के बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा को दो ओवर के अंदर गंवाने महंगा पड़ गया. इसके साथ ही तेंदुलकर ने माना कि फाइनल में न्यूजीलैंड की टीम भारत से बेहतर थी.

सचिन तेंदुलकर का कहना है कि डब्लूटीसी फाइनल जैसे बड़े मुकाबले में इंडिया के दिग्गज खिलाड़ियों ने निराश किया. सचिन तेंदुलकर ने न्यूजीलैंड को जीत की बधाई भी दी. सचिन ने कहा, ”विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप जीतने पर ब्लैक कैप्स को बधाई. आप बेहतर टीम थे.”

सचिन ने आगे लिखा, ”टीम इंडिया अपने प्रदर्शन से निराश होगी. जैसा कि मैंने पहले कहा था कि पहले 10 ओवर महत्वपूर्ण होंगे और भारत ने कोहली और पुजारा दोनों को 10 गेंदों में खो दिया और इसने टीम पर बहुत दबाव डाला.”

दिग्गज खिलाड़ियों ने की न्यूजीलैंड की तारीफ

कोहली और पुजारा दोनों को लंबे तेज गेंदबाज काइल जैमीसन ने आउट किया, जिन्होंने छठे दिन भी साउथेम्प्टन की पिच से मूवमेंट और उछाल निकाला, जो कि रिजर्व डे था. 35वें ओवर की पांचवीं गेंद पर कोहली गिरे तो 37वें ओवर की तीसरी गेंद पर पुजारा आउट हुए.

सचिन तेंदुलकर अकेले ऐसे खिलाड़ी नहीं हैं जिन्होंने फाइनल में न्यूजीलैंड के प्रदर्शन को इंडिया से बेहतर बताया है. कई दिग्गज खिलाड़ी न्यूजीलैंड के प्रदर्शन को शानदार बता चुके हैं. भारत के पूर्व बल्लेबाज वीवीएस लक्ष्मण ने न्यूजीलैंड की जमकर तारीफ की. लक्ष्मण ने कहा, ”बधाई हो कीवी टीम चैंपियन होने पर. न्यूजीलैंड के गेंदबाज शानदार थे, विलियमसन और टेलर ने काम खत्म करने के लिए अपना अनुभव लगाया.”

इंग्लैंड में तेज गेंदबाजों के लिए मददगार हालात को देखते हुए फाइनल से पहले भी दिग्गज खिलाड़ियों ने न्यूजीलैंड को भारत की तुलना में खिताब का तगड़ा दावेदार बताया था.

Leave a Reply

Your email address will not be published.