भारत तथा ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में स्टीव स्मिथ ने ऐसा क्या किया है कि वह विवादों में घिर गए हैं? जानिए

स्टीव स्मिथ एक उच्च कोटि के बल्लेबाज हैं, इसमें कोई शक नहीं है। इनके आंकड़े भी इनकी काबिलियत की गवाही देते हैं।

स्मिथ बल्लेबाज भले ही काफी ज़बरदस्त हैं, लेकिन कैरेक्टर से वह काफी ढीले लगते हैं। इनका बदनुमा चेहरा सबसे पहले तब दिखा था जब इन्होंने एक अन्य खिलाड़ी के साथ मिल कर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेले जा रहे मैच के दौरान बॉल टेंपरिंग की शर्मनाक घटना को अंजाम दिया था।

हालांकि बाद में जब ये अपने अपराध स्वीकार करते हुए प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान रोए थे तो इनकी गलती होने के बावजूद लोगों की सहानुभूति इन्हें मिली थी। लोग सोच रहे थे कि स्टीव स्मिथ को अपनी गलती का एहसास हो गया है। इन्हें माफ कर दिया जाना चाहिए।

लेकिन भारत तथा ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए तीसरे टेस्ट मैच के चौथे दिन स्टीव स्मिथ ने जो किया, वह एक बार फिर से शर्मनाक कृत्य था।

दरअसल, तीसरा टेस्ट 5वें दिन तक काफी रोमांचक मोड़ ले चुका था। ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 7 विकेट की दरकार थी। सुबह में ही रहाणे को आउट कर के ऑस्ट्रेलिया ने अच्छी शुरुआत की। लेकिन इसके बाद बल्लेबाजी करने आए ऋषभ पंत ने ऑस्ट्रेलियाई टीम को तोड़ना शुरू कर दिया।

टेस्ट में वनडे जैसी बल्लेबाजी होने लगी। हालांकि इसमें भाग्य भी पंत का अच्छा साथ दे रहा था। खैर… पंत की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी से ऑस्ट्रेलिया मैच से बाहर होता जा रहा था। वहीं, भारत की पकड़ मजबूत हो रही थी।

टी ब्रेक तक भारत अच्छी स्थिति में थे। लेकिन जब टीम टी ब्रेक से वापस आई तो ठीक इसी समय स्टीव स्मिथ ने एक ओछी हरकत करते हुए ऋषभ पंत के बैटिंग गार्ड के निशान को अपने जूतों से मिटाते नज़र आए ताकि पंत गलत जगह से बल्लेबाजी करने लगें तथा उनका विकेट मिल जाए। स्मिथ की ये हरकत स्टंप कैमरे में कैद हो गयी।

यही कारण है कि वीडियो के बाहर आने के बाद से ही स्मिथ लगातार लोगों के निशाने पर हैं।

भारतीय खिलाड़ियों को तो छोड़िए, कई पूर्व ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज ने भी आलोचना की है तथा इसे क्रिकेट के लिए शर्मनाक बताया है। लोग ये भी कह रहे हैं कि स्मिथ ने अपनी पिछली गलती से कोई भी सीख नहीं ली है। स्मिथ पर फिर से कार्यवाही की मांग भी हो रही है।

स्मिथ की इस हरकत पर आप अपनी राय भी कमेंट बॉक्स में साझा कर सकते हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *