भारत में “कोरोनावायरस वैक्सीन” का सबसे पहला टीका किसे लगाया गया है? जानिए

जिस शुभ घड़ी का सबको इंतजार था वह समय आ गया है और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज 16 जनवरी को विश्व के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान की शुरुआत कर दी है।

भारत में कोरोनावायरस का पहला टीका लगवाने वाले व्यक्ति “श्री मनीष कुमार” हैं, वह पेशे से सफाईकर्मी हैं और उन्हें एम्स दिल्ली के टीका केंद्र में स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन की उपस्थिति में कोरोना वायरस का पहला टीका लगाया गया।

इसके अलावा एम्स दिल्ली के अध्यक्ष और उपाध्यक्ष को भी कोरोनावायरस का टीका दिया गया। भारत में फिलहाल ऑक्सफोर्ड/एस्ट्रेजनेका और भारत बायोटेक द्वारा निर्मित दो वैक्सीन्स को मंजूरी मिली है।

भारत में टीकाकरण का काम फिलहाल दो चरणों में होगा जिसमें पहले चरण में 3 करोड स्वास्थ्य एवं सफाई कर्मियों और दूसरे चरण में 27 करोड़ अन्य लोगों को करोना वायरस का टीका दिया जाएगा। सुरक्षाकर्मियों और सीमा वर्ती इलाकों में तैनात सैनिकों को भी टीकाकरण की प्रक्रिया में प्राथमिकता दी जाएगी।

इस दौरान टीवी पर लोगों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने यह भी बताया की वैक्सीन की दूसरी डोज देने के 2 हफ्ते बाद ही हमारे शरीर में कोरोना वायरस के विरुद्ध रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित हो पाएगी इसीलिए फिलहाल टीके का पहला डोज लगवाने के बाद भी हमें सावधानी बरतनी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.