भारत में सबसे पहला पंडुबी कब बनाया गया था?

आठ दिसंबर की तारीख देश की हिफाजत में लगी सेनाओं के लिए एक खास दिन है. 1967 में आज ही के दिन भारत की पहली पनडुब्बी ‘कलवरी’ को भारतीय नौसेना में शामिल किया गया था. 30 साल की सेवा के बाद इसे 31 मार्च 1996 को नौसेना से रिटायर कर दिया गया. कलवरी का नाम हिंद महासागर में पाई जाने वाली खतरनाक टाइगर शार्क के नाम पर रखा गया था.

देश में पनडुब्बियां बनाने का प्लान 1999 में तैयार किया गया था। इसके तहत 30 साल का रोडमैप तैयार किया गया था जिसके तहत 2029 तक 24 पनडुब्बियां बनाने की योजना थी। इसके पहले प्रॉजेक्ट पी-75 के तहत स्कॉर्पीन सीरीज की छह पनडुब्बियां बनाई जा रही हैं।

2005 से यह प्रॉजेक्ट चलाया जा रहा है, जिसके तहत फ्रांस की कंपनी नवल ग्रुप (पहले डीसीएनएस) मुंबई स्थित सरकारी कंपनी मझगांव डॉक शिप बिल्डर्स लिमिटेड (एमडीएल) को टेक्नॉलजी ट्रांसफर भी करेगी। करीब 23 हजार करोड़ रुपये के इस प्रॉजेक्ट में चार साल की देरी हो चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.