भारत में सबसे पहले सूर्य किस राज्य में निकलता है? और सूरज की किरणों को पृथ्वी पर आने में कितना समय लगता है?

भारत का सबसे पूर्ववर्ती राज्य अरुणाचल प्रदेश है इसलिए यह तो साफ है कि भारत के अरुणाचल प्रदेश मे सबसे पहले सूर्योदय होता है। अरुणाचल प्रदेश कि डोंग घाटी मे सबसे पहले सूर्योदय होता है। कहते हैं कि रात मे 3 बजे ही यहाँ से अंधेरा छँटने लगता है। [1] कई लोग 8 किलोमीटर कि ट्रेकिंग कर सूर्योदय देखने जाते हैं।

दूसरा सवाल एक त्रुटि से थोड़ा दिलचस्प हो गया है क्योंकि उसमे यह नहीं पूछा गया कि सूर्य कि रोशनी को सूर्य के सतह से धरती तक आने मे कितना समय लगता है? बल्कि यह पूछा गया है कि सूर्य से आने मे कितना समय लगता है?

अगर आपने सूर्य के सतह से पूछा होता तो इसका उत्तर होता 499 सेकंड हैं जो नासा कि गणना पर आधारित है। [3] सूर्य का प्रकाश फ़ोटॉन से बना होता है इसलिए अगर सही मायनों मे देखा जाए तो उसकी यात्रा सूर्य के गर्भ/केंद्र से शुरू होती है।

यूं तो केंद्र मे जन्मे फ़ोटॉन को 700,000 किलोमीटर का सफर तय करने मे केवल 2.3 सेकंड लगना चाहिए पर फ़ोटॉन सूर्य के अंदर ही अत्यधिक मात्रा और गुरुत्वाकर्षण बल के कारण अवशोषित और प्रक्षेपित होता हुआ बहुत समय लेता है सूर्य के संवहन सतह पहुँचने में।

ऊपर के चित्र मे आप एक फ़ोटॉन का पथ देख सकते हैं। जो टेढ़ी-मेढ़ी रेखा से दर्शाया गया है। वैज्ञानिको ने इसे random walk अथवा drunkard walk की संज्ञा दी है। जैसे एक शराबी लड़खड़ाते हुए चलता है उसी तरह फ़ोटॉन भी मजबूरी मे लड़खड़ाते हुए ऊपर तक पहुंचता है। एक बार सतह तक पहुँच जाए फिर सीधा बाहर निकलता है और धरती तह आने मे 499 सेकंड का समय लेता है।

नासा के अनुमान के मुताबिक यह समय लगभग 4000 वर्ष हो सकता है, पर कई किताबों और वेबसाईट पर यह कुछ हजार वर्षों से लेकर कई लाखों वर्षों तक भी कहा गया है। ऐसा इसलिए कि यह निर्भर करता है कि फोटान कितना लंबा रास्ता लेता है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *