मोबाइल से सम्बन्धित इस गलती को कभी न करें

आजकल मोबाइल फ़ोन सभी के पास है , होना भी चाहिए क्योंकि मोबाइल हमारे लिए बहुत सुविधाजनक है | इन्टरनेट के बाद पूरी दुनियां को एक घर के रुप में सीमित करने का सबसे ज्यादा श्रेय अगर किसी को जाता है तो वह है मोबाइल | हर साल मोबाइल में कोई न कोई नयी चीज जुडती जा रही है | मोबाइल ने कम्प्यूटर , घडी , कैमरा , केल्कुलेटर आदि का इस्तेमाल बहुत सीमित कर दिया है और भविष्य में इसमे जैसे ही इसमें नयी चीजें जुडती जायेंगी यह अन्य वस्तुओं की खपत भी कम कर देगा | मैने कई बार अपनी पोस्ट में लिखा है कि किसी वस्तु का यदि सकारात्मक प्रभाव है तो नकारात्मक प्रभाव भी होगा ही , यदि इस छोटे से दिखने वाले उपकरण से सुविधा मिलती है तो खतरा भी हो सकता है | आये दिन आपने मोबाइल फ़ोन की बैटरी फ़टने से होने वाले हादसों के बारे में आपने न्यूज में पढा ही होगा | आज की पोस्ट भी मोबाइल की बैटरी से ही सम्बन्धित ही है | आपने अक्सर देखा होगा कि मोबाइल की बैटरी फ़ूलने लगती है | ध्यान रहे इसका उपयोग आपके लिए भारी पड़ सकता है | जब भी बैटरी फ़ूल जाये तो उसका उपयोग बन्द कर दें वरना आप एक बडे हादसे को निमंत्रण दे सकते हो | फ़ूली हुई बैटरी का उपयोग करने से बैटरी फ़ट भी सकती है | अब हम यह जानने का प्रयास करते हैं कि आखिर मोबाइल की बैटरी फ़ूलती क्यों है ?

अक्सर मोबाइल की बैटरी तभी फ़ुलती है जब उसके अन्दर पानी भर जाता है या आप आवश्यता से अधिक चार्ज कर लेते हो | कभी कभी यह भी देखने को मिला है कि मोबाइल का अधिक देर तक इस्तेमाल करने के कारण मोबाइल गर्म हो जाता है जिसके कारण मोबाइल की बैटरी फ़ूल जाती है आगे से ध्यान दें यदि आपको लगता है कि मोबाइल गर्म हो गया है तो थोडी देर उसका उपयोग रोक दें | इन सभी परिस्थतियों में बैटरी के फ़ूलने का कारण होता है इनका लीथियम और आयन से बना होना जो कि काफ़ी मात्रा में ऊर्जा को संरक्षित करते हैं | मोबाइल की बैटरी बनाने वाले अधिक से अधिक ऊर्जा संरक्षित करने वाली बैटरी बनाने के लिए बैटरी की धातुओं को बहुत पास पास लगाते हैं जिनके बीच द्र्व्य भरा रहता है | जब किसी कारणवश इनके अन्दर गैस भर जाती है तो गैस को निकलने का स्थान नहीं मिलता है इसलिए बैटरी फ़ूल जाती है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Ads by Eonads
Translate »