यदि किसी बैटरी पर ए एच ही न लिखा रहे हो तो बैकप कैसे पता करें?

सील्ड बैटरी के आकार को देखकर और तरल इलेक्ट्रोलाइट वाली ओपन वेंट्स लेड एसिड बैटरी के सेलों में प्लेट्स की संख्या और प्लेटों का आकर देखकर उसकी क्षमता के बारे में अनुमान लगाया जा सकता हैं।

किंतु यह सिर्फ़ अनुमान ही होगा।

सटीक जानकारी के लिए बैटरी के श्रेणीक्रम में एक अमीटर लगाकर पूर्व निर्धारित क्षमता का लोड जोड़ते हैं। इस लोड के संचालन की समय सीमा और अमीटर से परिपथ में बहने वाली विद्युत धारा से बैटरी की एएच का सही निर्धारण किया जा सकता हैं।

उदाहरण के लिए, मान लीजिए, हमे एक 12 वोल्ट की बैटरी की एम्पियर ऑवर क्षमता ज्ञात करना हैं।

उपरोक्त अनुसार परिपथ तैयार करते हैं। जिसमे बैटरी के श्रेणीक्रम में धन विभव पर एक अमीटर तथा अमीटर के दूसरे छोर और बैटरी के ऋण विभव पर एक पूर्व निर्धारित लोड (मान लीजिए एक 60 वाट का ऑटो हेडलाइट बल्ब) जोड़ देते हैं। समय का निर्धारण करने के लिए स्टॉप वॉच या मोबाइल की सहायता लेते हैं।

परिपथ जोड़ते ही बल्ब प्रकाशित होने लगेगा। उसी समय स्टॉप वॉच या मोबाइल का टाइमर ऑन कर देते हैं साथ ही अमीटर से परिपथ में बहने वाली विद्युत धारा का मान भी ज्ञात कर लेते हैं। मान लीजिए यह 5 एम्पियर हैं।

बल्ब कितनी देर तक पूर्ण क्षमता से प्रकाशित रह सकता हैं, वह समय नोट कर लेते हैं। मान लीजिए 60 वाट क्षमता का बल्ब दो घंटे तक लगातार प्रकाशित रह सकता है, तो

ए एच = एम्पियर x ऑवर (घंटे)

ए एच = 5 x 2

ए एच अर्थात, एम्पियर (प्रति घंटा) = 10

अतः बैटरी की क्षमता 10 ए एच होगी।

अर्थात बैटरी, लोड से सम्बद्ध होने के बाद 10 एम्पियर की विद्युत धारा एक घंटे तक प्रदान कर सकती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.