यह दुनिया की इकलौती समुद्री छिपकली जो सिर्फ केवल समुद्र में ही मिलती है

जलीय छिपकली

यह उल्लेखनीय उभयचर मेक्सिको सिटी के पास झीलों और नहरों की एक छोटी श्रृंखला के मूल निवासी है। हजारों की संख्या में एक बार और एज़्टेक के लिए एक महत्वपूर्ण खाद्य स्रोत प्रदान करने के बाद, एक्सोलोटल की जंगली आबादी को निवास स्थान के नुकसान के कारण सिर्फ कुछ व्यक्तियों के लिए घटाया गया है।

एक्सोलोटल 18 इंच की लंबाई तक बढ़ सकते है। और वे बाहरी गलफड़ों के एक अद्वितीय सेट के साथ-साथ पूरी तरह से खोए हुए अंगों को पुन: प्राप्त करने की क्षमता की क्षमता रखते है। जैसे छिपकली अपनी पूछ को वापस अपने शरीर में उगा सकती है उसी तरह से यह भी अपने खोए हुए अंगों को पुन्हा उगा सकते हैं।

यह जलीय छिपकली विलुप्त होने की कगार पर है। इनकी संख्या बहुत ही कम बची है इस दुनिया में जिसकी वजह से इनके लिए सुरक्षा अभियान चलाया गया है ताकि इनकी बची हुई प्रजाति को विलुप्त होने से बचाया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.