यह है भारत के 4 चोर बाज़ार, मिलती हैं सबसे सस्ती चीज़ें

भारत में दुनिया की हर एक चीज़ मिलती है। चाहे वह नेचर की हो या इंसान की बनायीं हुई। यहाँ पर पहाड़, पर्वत से लेकर मसालें और सुई तक मिल जाती है।
आज आपको कुछ ऐसी जगहों के बारें में बताएंगे जहाँ पर वो चीज़ें मिलती है जो कहीं नहीं मिलती हैं। जी हाँ , हम बात कर रहे हैं भारत के मशहूर चोर बाज़ारों की। इन चोर बाज़ारों में आप सुई से लेकर बड़ी गाड़ियों के पार्ट्स तक खरीद सकते हैं। आइये इस बारें में विस्तार से जानते हैं।

भारत में सबसे मशहूर चोर बाज़ार है मुंबई का चोर बाज़ार। यह चोर बाज़ार लगभग 150 साल पुराना है। यह मुंबई में मटन स्ट्रीट मोहम्मद अली रोड पर है। पहले इसे ‘शोर बाजार’ के नाम से जाना जाता था लेकिन अंग्रेज़ों ने इसे श की जगह च बोलकर इसका नाम बिगाड़ दिया। तब से इसे चोर बाज़ार के नाम से जाना जाने लगा। यह चोर बाज़ार सुबह 11 बजे से शाम 7:30 बजे तक खुला रहता है। यहाँ पर आपको छोटी से छोटी चीज़ और बड़ी से बड़ी चीज़ भी मिल जायेगी।

thieves market of india

दूसरे नंबर पर आता है दिल्ली का चोर बाज़ार। यह सबसे पुराना बाज़ार है। यह बाज़ार केवल रविवार के दिन लगता है। पहले यह बाज़ार लाल किला के पीछे लगती थी लेकिन अब यह जामा मस्जिद के पास लगती है। इसे कबाड़ी बाज़ार के नाम से भी जाना जाता है। यहाँ पर आपको हर तरह के इलेक्ट्रानिक सामान मिल जाएंगे।

बेंगलुरु का चिकपेट मार्केट दिल्ली और मुंबई के चोर बाज़ारों से थोड़ा कम मशहूर है। यहाँ पर चोरी का हर सामान मिल जाता है। यह मार्केट रविवार के दिन खुलती है। यहाँ पर चीज़ें बहुत सस्ती मिलती हैं।

चोर बाज़ार
तमिलनाडु में पुदुपेट मार्केट को ‘ऑटोनगर’ भी कहा जाता है। यहाँ पर हज़ारों की संख्या में दुकाने मिल जाएंगी। यह मार्केट खासकर चोरी की गयी गाड़ियों के पार्ट्स के लिए मशहूर है। यहाँ पर गाड़ियों के पार्ट को इतनी तेजी से बदला जाता है कि पता ही नहीं चलता है कि ओरिजिनल गाड़ी पल भर में कहाँ गयी। यह मार्केट सुबह 10 बजे से शाम 4 बजे तक खुलती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.